brazil

भारत, अमेरिका, जापान, रूस और ब्राजील समेत दुनिया भर के कई बड़े मुल्क इस समय कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे हैं। वैज्ञानिक दिन- रात कोरोना की वैक्सीन बनाने के काम में जुटे हुए हैं। इन दौरान उन्हें तमाम तरह की चुनौतियों का भी सामना करना पड़ रहा है। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी है। तमाम बाधाओं को पार करते हुए उन्होंने आआगे भी वैक्सीन की परीक्षण का काम जारी रखने की बात कही है।

ब्राजील में भ्रष्टाचार निरोधक यूनिक की छापेमारी में राष्ट्रपति जेयर बोलसनारो की पार्टी के एक सांसद की अजीबो-गरीब हरकत सामने आई। छापेमारी में खुलासा हुआ कि सांसद चिको रोड्रिग्स अपनी अंडरवियर में रूपए छिपाए हुए है।

रूस ने फैसला किया है कि वह ब्राजील को वैक्सीन की पांच करोड़ डोज की सप्लाई करेगा। रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड (RDIF) ने कहा है कि नवंबर में कोविड वैक्सीन Sputnik V की डिलिवरी शुरू हो जाएगी।

धरती पर अतंरिक्ष से जो पत्थर, उल्कापिंड गिरते हैं, उनमें इतना कुछ खास नहीं रहता और न हीं कोई अहम बात रहती, जिसके ऊपर ध्यान दिया जाएं। लेकिन इनमें से कुछ को वैज्ञानिक शोध करने के लिए ले जाते हैं।

दूनिया भर में कोरोना वायरस ने कहर बरपा रखा है। कई बड़े मुल्क इसकी चपेट में हैं। इस वायरस की चपेट में अब तक 2.21 करोड़ से ज्यादा लोग आ चुके हैं, जबकि 7.9 लाख से ज्यादा लोगों की डेथ हो चुकी है।

भारत में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। मंगलवार को देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 23 लाख के पार पहुंच गया। ये लगातार 8वां दिन है, जब अमेरिका और ब्राजील से ज्यादा केस भारत में हैं।

कोरोना वायरस भारत में रोज नए रिकाॅर्ड बना रहा है। देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 52,972 नए मामले सामने आए हैं जबकि 771 मरीजों की मौत हो चुकी है।

कोविड 19 ने सारी दुनिया को संकट में डाल दिया है।बड़े से बड़े सुपरपावर कहलाने वाले देशों ने इस बीमारी के आगे घुटने टेक दिए हैं। अमरीका, इटली समेत दूसरे यूरोपीय देश कोरोना से पार नहीं पा रहे हैं।

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है। अब इस बीच ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जेयर बोलसोनारो अभी तक कोरोना वायरस की गंभीरता को नकारते आ रहे थे।