bsp

रामपुर मनिहारन के पूर्व विधायक व बसपा के पूर्व जोनल कोआर्डिनेटर रविन्द्र कुमार मोल्हू, सहारनपुर के जिलाध्यक्ष ऋषिपाल गौतम, गंगोह विधानसभा के अध्यक्ष धर्मेन्द्र गौतम सहित बड़ी संख्या में कई अन्य बसपा पदाधिकारी व उनके समर्थक भाजपा में शामिल हुए।

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने लखनऊ के किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय परिसर में वाल्मीकि मंदिर तोड़े जाने को लेकर योगी सरकार पर हमलावर होते हुए घटना की जांच कराने की मांग की है।

राजस्थान में मायावती को बड़ा झटका लगा है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के सभी छह विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए हैं। सोमवार को कांग्रेस में शामिल विधायक ने कहा कि उन्होंने ऐसा अपने क्षेत्र के विकास के लिए किया है। बता दें कि सभी 6 विधायक अभी तक बाहर से कांग्रेस को समर्थन दे रहे थे।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सीएम योगी जघन्यतम घटना के तुरंत बाद उम्भा जाकर पीडितों को राहत दी वहीं पूरे प्रकरण पर जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की। पीड़ितों को उनका हक दिया जो स्वागत योग्य है तो वहीं कांग्रेस, सपा, बसपा के शासनकाल में

चंडीगढ़: किसी भी राजनीतिक दल से बसपा मुखिया मायावती की दोस्ती ज्यादा दिन नहीं चलती। यूपी में सपा-बसपा का साथ केवल लोकसभा चुनाव तक ही चल सका तो हरियाणा में जननायक जनता पार्टी से उनका सियासी गठजोड़ चुनाव से पहले ही टूट गया। चौटाला परिवार के बीच मतभेदों के चलते अस्तित्व में आई जननायक जनता …

हरियाणा में विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी( बीएसपी) के बीच गठबंधन को लेकर चल रही अटकलों पर आज विराम लग गया।

यूपी में अभी भी भले ही 12 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए तारीखों का ऐलान न हुआ हो पर भाजपा ने इन सभी सीटों के लिए अपनी तैयारियों को तेज कर दिया है। पिछली बार उपचुनाव सीटों को हारने वाली सत्ताधारी भाजपा इस बार फूंक फुंक कर कदम रख रही है।

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने पार्टी संगठन में अहम बदलाव किए है। बसपा सुप्रीमों ने उत्तर प्रदेश में पार्टी के तीन को-ऑर्डिनेटर बनाए हैं। प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली के साथ पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा तथा भीमराव अम्बेडकर को पार्टी में को-ऑर्डिनेटर बनाया है। यह भी पढ़ें: मोदी के 50 समझौते! पाकिस्तान की टेंशन …

जन-जन का विकास बहन जी की हाथों में है। गोविंद नगर प्रत्याशी देवी प्रसाद तिवारी पार्टी के सच्चे सिपाही हैं। इनको हर हाल में जिताने की जिम्मेदारी आप सभी की है। चुनाव से प्रत्तेक बूथ पर जाकर जमीनी स्तर पर काम करने की जरूरत है।

ये पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई थी। पार्षद इससे पहले भी एक दरोगा को सरेराह पीट चुका है। वार्ड 38 से पार्षद मुकेश दहिया का दूध डेरी का कारोबार है।