cbi

केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने देश भर के 9 जगहों पर छापा मारा है। मणिपुर में सरकारी फंड में हेराफेरी का मामला सामने आया है। सीबीआई ने इस सिलसिले में मणिपुर डेवलेपमेंट सोसाइटी (MDS) के पूर्व चेयरमैन ओ इबोबी सिंह समेत 7 अधिकारों के खिलाफ केस दर्ज की है।

सीबीआई ने एक बार फिर अपना सख्त तेवर दिखाया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मानवाधिकार के लिए काम करने वाली संस्था एमनेस्टी के बेंगलुरु स्थित दफ्तर पर ने सीबीआई ने छापेमारी की है। बताया जा रहा है कि एमनेस्टी इंटरनैशनल ग्रुप पर नियमों का उल्लंघन करते हुए विदेशी फंडिंग हासिल करने का आरोप है।

सीबीआई (केंद्रीय जांच ब्यूरो) ने बैंक धोखाधड़ी के सिलसिले में पूरे देश में 190 स्थानों पर छापेमारी की है। सरकारी क्षेत्र के एक दर्जन से ज्यादा बैंकों में हुई गड़बड़ी के मामले में 42 केस दर्ज करने के बाद ये कार्रवाई की गई है।

सीबीआई की टीम आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, केरल, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, पंजाब, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दादर नागर हवेली में 169 ठिकानों पर छापेमारी जारी है।

उत्तराखंड की राजनीति से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। विधायकों की ख़रीद-फ़रोख़्त के आरोप में सीबीआई ने उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृह मंत्री पी.चिदंबरम की मुश्किलें लगातार बढ़ रही है। बता दें कि INX Media Case में मंगलवार को दिल्ली की अदालत ने ईडी को पी चिदंबरम से पूछताछ की इजाजत दे दी है। दरअसल, दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में ईडी की टीम

उन्नाव रेप पीड़िता के साथ हुए सड़क हादसे में सीबीआई ने शुक्रवार को चार्जशीट दाखिल कर दी है। बता दें कि बीजेपी से निष्कासित विधायक सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता का ऐक्सिडेंट हो गया था और उसने सीबीआई के सामने हादसे के पीछे विधायक के हाथ होने की बात कही थी।

पंजाब नेशनल बैंक के घोटाले में मेहुल चोकसी को सीबीआई ने गुरूवार को कोर्ट से भगोड़ा घोषित करने का आग्रह किया है। मेहुल चोकसी मामले में सीबीआई ने कहा कि मेहुल चोकसी गैरजमानती वारंट (एनबीडब्यू) का जवाब देने में असफल रहा है।

30 मई, 2017 को इस आपराधिक मामले में सीबीआई की विशेष अदालत (अयोध्या प्रकरण) ने एलके आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार व विष्णु हरि डालमिया पर आईपीसी की धारा 120 बी (साजिश रचने) के तहत आरोप तय किया था।

राजधानी कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का पता लगाने के लिए कोलकाता भेजी गई केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई की 10 सदस्यीय टीम नई दिल्ली स्थित अपने मुख्यालय बैरंग वापस लौट आई है।