cbi

चिदंबरम के वित्त मंत्री कार्यकाल का है, इस दौरान सीबीआई ने 15 मई 2017 को 2007 में आईएनएक्स मीडिया समूह को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने में बरती गई कथित अनियमितताओं को लेकर एफआईआर दर्ज की थी। जिस पर फैसला थोड़ी देर में आ सकता है ।

आई-मॉनेटरी एडवाइजरी पर आरोप है कि इस कम्पनी ने निवेश के इस्लामिक तरीकों का इस्तेमाल करके उच्च रिटर्न का वादा कर कथित तौर पर लाखों लोगों को चूना लगाया था।

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने उत्तर प्रदेश के देवरिया शेल्‍टर होम केस की जांच शुरू कर दी है। केंद्रीय जांच एजेंसी ने देवरिया के मां विंध्यवासिनी महिला एवं बालिका संरक्षण गृह की निदेशक गिरिजा त्रिपाठी और उसकी बेटी तथा संरक्षण गृह अधीक्षक कंचन लता त्रिपाठी के खिलाफ दो केस दर्ज किए हैं।

केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई पूरे देश में छापे मारे कर रही है। यह जांच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर हो रही है। सीबीआई रेलवे, परिवहन, बैंक, बीएसएनएल समेत कई विभागों में तलाशी कर रही है। सीबीआई ने देशभर में 150 जगहों पर छापेमारी कर रही है।

आईएनएक्स मीडिया धनशोधन मामले में पी चिदंबरम की शुक्रवार को सीबीआई रिमांड खत्म हो रही है। सुनवाई के लिए पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को कोर्ट लाया गया है। सीबीआई ने कोर्ट से चिदंबरम की 5 दिन की हिरासत बढ़ाने की मांग की है।

उन्होंने कहा कि देश में मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार और प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के नेतृत्व में राज्य सरकार गांव, गरीब, किसान, नौजवान के कल्याण के लिए काम कर रही है।

आईएनएक्स मीडिया केस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृह मंत्री पी. चिदंबरम को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी के बाद सीबीआई मे उनको गुरुवार को कोर्ट में पेश किया। इसके बाद से कांग्रेस भड़क गई है।

गिरफ्तार करने के बाद पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को सीबीआई ने दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया। बुधवार रात को लंबे ड्रामे के बाद सीबीआई ने पूर्व गृह मंत्री और कांग्रेस नेता को उनके घर से गिरफ्तार किया था। इसके साथ ही सीबीआई ने हेडक्वार्टर में उनसे लगभग 3 घंटे तक पूछताछ की।

INX मीडिया केस में शीना बोरा मर्डर केस की आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को मुख्य गवाह बनाया गया है। सीबीआई को इंद्राणी मुखर्जी ने मार्च 2018 में बयान दिया था। इसमें मुखर्जी ने कहा था कि इस मामले को लेकर उनके और कीर्ति चिदंबरम के बीच 10 लाख अमेरिकी डॉलर की डील तय हुई थी।

कथित प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के एक मामले में सीबीआई ने एनडीटीवी के प्रमोटरों प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय समेत अन्य के खिलाफ केस दर्ज किया है। एनडीटीवी के प्रमोटरों के खिलाफ एफडीआई नियमों के कथित उल्लंघन का आरोप है।