CHILD

बुधवार को एक महिला यात्री ने चलती ट्रेन में बच्चे को जन्म दिया। ट्रेन नंबर 15956 ब्रह्मपुत्र मेल में टीटीई की समझदारी से एक महिला यात्री ने चलती ट्रेन में बच्चे को जन्म दिया। नई-दिल्ली से डिब्रूगढ़ जा रही गाड़ी सं 15956 ब्रम्हपुत्र मेल में डयूटी पर कार्यरत टीटीई मनोज कुमार

मेरठ में बागपत रोड स्थित मुलताननगर में शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय पूर्व क्रिकेटर प्रवीण कुमार ने सरेआम गुंडागर्दी की। स्कूल बस से बच्चे उतर रहे थे, प्रवीण अपनी गाड़ी लेकर वहां पहुंचे।

राजधानी के आशियाना थाना क्षेत्र में एक कलयुगी पिता ने अपने डेढ़ माह के मासूम बेटे को पत्नी की गोद से छीनकर पटक-पटक कर मार डाला। उसके बाद हत्यारा पिता मौके से फरार हो गया।

ऐसे में इसका सबसे ज्यादा असर छोटे बच्चों पर पड़ता है। उचित देखभाल के अभाव में यह छोटे बच्चे अक्सर बीमारियों के शिकार हो जाते है। इसी तरह की एक बीमारी है छोटे बच्चे के शिश्न की खाल चिपकने की समस्या, जो कई बार गंभीर संक्रमण का कारण भी बन जाती है। किंग जॉर्ज चिकित्सा

पूरा मामला मऊ जनपद के मोहम्मदाबाद गोहाना कोतवाली क्षेत्र में बनियापार ग्राम सभा से है, जहां गांव में स्थित एक ट्यूबेल में बने पानी की टंकी में 9 वर्षीय बच्चे की डूबने से मौत हो गई।

दरअसल, इस बच्ची के दो नहीं बल्कि चार हाथ और चार पैर हैं, जो व्यक्ति इस नवजात को देख रहे हैं वो सभी इस बात से हैरान है कि ये संभव कैसे है। बता दें कि सोशल मीडिया पर इस बच्ची की वीडियो और तस्वीरें काफी वायरल हो रही है।

देश के पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का शनिवार को निधन हो गया। लेकिन जेटली को उनके नेक कामों के लिए हमेशा याद किया जाएगा। जेटली अपने निजी स्टाफ के मदद के लिए कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियां निभाते थे।

अभी तक आप महिलाओं के गर्भवती होने की खबर सुनते आ रहे होंगे, लेकिन पिछले दिनों जारी हुए एक रिपोर्ट से हैरान करने वाली खबर सामने आई है। इस रिपोर्ट में सामने आया है कि ऑस्ट्रेलिया में पिछले 22 का पुरुष प्रेग्नेंट हुए और इन्होंने बच्चों को जन्म दिया।

इस परम्परा पर यहां के ग्रामवासियों का अटूट विश्वास उनके अनुसार यह हमेशा सही होता है। चांद पहाड़ मूल रूप से नागवंशी राजाओं के मनोरंजन पार्क के रूप में विकसित किया गया था।

अगर किसी मासूम को बच्चे को भूख लग जाती है तो मां को दूध पिलाने (ब्रेस्टफीड कराने) के लिए एक कूना ढूंढना पड़ता है। अगर वह खुले में किसी के सामने बच्चे को दूध पिलाती है तो लोगों उसको लोगों लेकर तरह-तरह की बातें करने लगते हैं।