CM Yogi Adityanaath

यूपी विधानसभा के इतिहास में इस बार मंत्रियों और विधायकों के हाथों में  बजट की कापी नहीं होगी, बल्कि उनके हाथ में  एप्पल का टेैबलेट होगा जिसमें वह वित्तीय वर्ष 2020-21 के बजट के बारे में जानकारी हासिल कर सकेंगे।

नाम बदलने वाला अभियान योगी आदित्यनाथ जी ने व्यापक बनाया है। एक दैनिक के संपादक से बातचीत में वे बोले थे कि पड़ोसी बिहार में नालन्दा से सटा बख्तियारपुर शहर है

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश (लखनऊ) सहित 6 राज्यों में लाइट हाउस योजना के अन्तर्गत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले नगर निकाय में मिर्जापुर नगर पालिका परिषद तथा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले नगर निकाय (नगर पंचायत श्रेणी) के अन्तर्गत प्रदेश की मलिहाबाद व हरिहरपुर नगर पंचायत तथा उत्कृष्ट आवास के लिए लखनऊ, आजमगढ़, हापुड़ के 3 लाभार्थियों को पुरस्कृत किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि जिस जमीन पर किसी गरीब की झोपड़ी है, वह उसके नाम होनी चाहिए। अगर ऐसी जमीन रिजर्व श्रेणी की नहीं है। उसे लेकर कोई विवाद नहीं है तो स्वामित्व योजना के तहत एक अभियान चलाएं। कुछ जिलों की तरह जरूरत के अनुसार गरीबों के आवास क्लस्टर में भी बनाए जा सकते हैं।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या के विकास के लिए हर संभव प्रयास करने में लगे हैं। उनकी मंशा है कि इस धार्मिक नगरी का प्राचीन गौरव भी बना रहे। साथ ही पर्यटन को भी बढ़ावा मिले, क्योंकि अयोध्या की विश्व में अलग पहचान है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और किसानों के साथ हुए वर्चुअल संवाद के पूर्व लखनऊ के विकासखण्ड मोहनलालगंज में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पांच को ट्रैक्टर की चाभियां भेंट की।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अटल जी की कविताएं राष्ट्रवाद, सार्वजनिक जीवन में नैतिक मूल्य व आदर्शों के साथ-साथ संघर्ष का प्रतीक हैं। उन्होंने जो सपना देखा था, वह आज साकार हो रहा है।

योगी सरकार ने साढे तीन साल की अपनी सरकार में किसानों के हितों के लिए कई असाधारण काम किए हैं। कृषि और किसान कल्याण योगी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में शामिल है।

गुजरात की तर्ज पर अब उत्तर प्रदेश में भी जहां जहां गौशालाएं हैं वहां पर बायोगैस प्लांट लगाए जाएगें। गुजरात में यह काम काफी समय से चल रहा है। यह काम पूरा हो जाने से लोगों को इसका खूब लाभ मिलेगा।

आज राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने ‘योगी आदित्यनाथ के ओजस्वी विचार’ नामक पुस्तक का विमोचन किया। पुस्तक के विमोचन के उपरांत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि इस तरह के साहित्य से युवाओं को बहुत कुछ सीखने का अवसर मिलता है।