congress party

आजमगढ़ जिलेे में कांग्रेस के तीन बड़े नेता थे। इन तीन नेताओं में पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्व चन्द्रजीत यादव, सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री स्व रामनरेश यादव व पूर्व सांसद डा संतोष सिंह शामिल थे। स्व चन्द्रजीत यादव तो इस जिले के होते हुए भी कभी इस जिले के नहीं रहे।

अपने टिव्टर एकाउंट से जहां प्रियंका गांधी यूपी की हर छोटी-बड़ी घटना पर योगी सरकार को घेर रही है तो वहीं पार्टी के नए प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू भी यूपी पावर कार्पोरेशन में हुए पीएफ घोटाले को लेकर प्रदेश सरकार पर हमलावर है।

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पूरे सूबे की जनता भाजपा के भ्रष्टाचार को देख रही है। ऊर्जा मंत्री की बौखलाहट बता रही है कि दाल में कुछ काला है। उन्होंने कहा कि मेरे द्वारा उठाये गए सवाल उत्तर प्रदेश की जनता का सवाल है, लाखों कर्मचारियों का सवाल है। माननीय मंत्री जी अपनी जिम्मेदारियों से भाग नहीं सकते हैं।

माडी शर्मा जैसे इंटरनेशनल बिजनेस ब्रोकर बड़ी शान से लिखते हैं, भारत आइए हम आपका खर्चा भी उठाएंगे। इसके अलावा एक और ट्वीट में प्रियंका गांधी ने सवाल उठाते हुए लिखा है कि PM ऑफिस में हमारी पहुंच है, हम आपको PM से भी मिलवायेंगे।

नवजोत कौर ने अपने पति  ''नवजोत सिंह सिद्धू के बारे में बताया कि वह दिल के साफ इंसान हैं। सच बोलते हैं। अपने दिल की बात उसी वक्त फटाक से कह देते हैं। उन्हें चालाकी नहीं आती। सिद्धू के मन में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ कभी कोई बात नहीं थी। वह उन्हें पिता के बराबर सम्मान  देते थे।

चुनावी माहौल में बहुत जनता के बीच अनेक रंग देखने को मिलते हैं, नेताओं और पार्टियों की तरफ से वोटरों को लुभाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाते हैं और प्रचार के नए-नए तरीके अपनाए जाते हैं। इसी बीच बड़ी खबर आ रही है कि कांग्रेस ने जिला और शहर अध्यक्षों की सूची जारी की है, आईये

महर्षि बाल्मीकि के जीवन दर्शन की यह विशेषता है कि उन्होने समानता के उच्च आदर्शों को स्थापित किया है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी भी उसी समानता के उच्च आदर्शों पर चले और अंग्रेजों को देश छोड़ने पर विवश कर दिया था।

बताते चलें कि हरियाणा कांग्रेस के पूर्व प्रमुख की ओर से एक बड़ा झटका लगा है। अशोक तंवर ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है। वह टिकटों के बंटवारे से नाराज थे, जिसकी वजह से उन्होंने इस्तीफा दे दिया है।

बता दें कि सोमवार शाम कांग्रेस मुख्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कांग्रेस सांसद पीएल. पुनिया ने कहा कि कांग्रेसी पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए शांतिपूर्वक पदयात्रा निकाल रही थी, लेकिन बीजेपी सरकार पुलिस की मदद से उनकी आवाज दबाने की कोशिश कर रही है।

अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि हमेशा से वित्त और विदेश मामलों की ये दोनों कमेटियां विपक्ष के पास रही हैं ताकि प्रभावी रूप से इनसे जुड़े मामलों पर विपक्ष भी अपनी बात रख सके । लेकिन इस सरकार को सवालों से असहजता होती है और वो उनका सामना नहीं करना चाहिए चाहती ।