conspiracy

इस मसले पर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के उपाध्यक्ष जॉर्ज कुरियन ने गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखकर दावा किया है कि केरल में ईसाई लड़कियों को लव जेहाद का शिकार बनाया जा रहा है। इसके साथ ही उन्होंने आकड़ा देते हुए बताया कि 7 साल में 4000 ईसाई लड़कियां लव जिहाद की शिकार हुई हैं।

पिकअप भवन अग्निकांड में बड़ा खुलासा हुआ है। फाइलें जलाने के लिए आग लगाई गई थी। उप सामान्य प्रबंधक मानव संसाधन विकास/विधि पिकप भवन ऋचा भार्गव ने अज्ञात के खिलाफ विभूतिखण्ड थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है।

पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। कुछ दिन पहले उसने 14 फरवरी के पुलवामा हमले को अंजाम दिया था। अभी इस हमले का तनाव कम नहीं हुआ कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की खतरनाक साजिश सामने आई है।

नई दिल्ली : राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी की हत्या के मामले में जम्मू-कश्मीर पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। बुखारी की हत्या की साजिश पाकिस्तान में रची गयी और इस हत्याकांड को लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने अंजाम दिया। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इस घटना को अंजाम देने वाले हत्यारों का स्केच भी जारी कर …

मुंबई: मुंबई में 12 मार्च 1993 को हुए सिलसिलेवार धमाके में 7 सितंबर को मौत की सजा पाए ताहिर मर्चेंट और फिरोज खान के परिवार वाले सजा का एलान होते ही अदालत में ही गश खाकर गिर गए। विशेष टाडा अदालत ने इस केस में ताहिर मर्चेंट और फिरोज को फांसी की सजा सुनाई है। …

शाहजहांपुर: देश में महिलाओं और युवतियों की रहस्यमयी चोटी कटने के बाद यूपी के शाहजहांपुर में पिछले तीन दिन करीब एक दर्जन महिलाओं और युवतियों के रहस्यमयी बाल कटने के मामले सामने आ चुके हैं। इस मामले पर पूर्व सपा सांसद मिथलेश कुमार ने इसे साजिश करार दिया है। उनका है कि जनता के दिलों …

मालेगांव ब्लास्ट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने गुरूवार (27 अप्रैल) को कहा कि कांग्रेस ने मुझे खत्म करने की साजिश रची। मैंने 9 साल का लंबा अन्याय झेला है।

मायावती ने कहा कि सपा का नेतृत्व सीबीआई के मार्फत भाजपा के शिकंजे में है। यह बात स्वयं मुलायम बार-बार सार्वजनिक तौर पर कह चुके हैं। इसके अलावा सपा और बीजेपी की आपसी मिलीभगत भी किसी से छिपी नहीं रही है।

दमकल ने जब आग बुझानी शुरू की तो गोदाम में पानी भरने लगा और जल चुकी छत और दीवारें चटक गईं। इससे छत धंस गई और लपटों में फंसे एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई। मलबे में दब कर दर्जनों लोग घायल हो गए, जिन्‍हें पुलिस ने ट्रामा सेंटर में एडमिट करवाया है।

राम लौटन पटेल ने कहा कि बसपा में किसी की हिम्मत नहीं जो पार्टी सुप्रीमो मायावती से कुछ पूछ सके। एक वाकये का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि तिलकराम अहिरवार ने एक बार ऐसे ही मामले में उनसे बात की थी, तो उन्हें यहां से हटा कर बिहार भेज दिया गया। उनके निर्णय के बारे में पूछने और कुछ कहने का साहस किसी में नहीं हुआ।