Corona in UP

प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या अब 75 जनपदों में 12,208 हो गई है। वहीं अब तक 23,334 लोग इलाज के बाद पूरी तरह ठीक होने के बाद...

रैण्डम सैम्पलिंग के अन्तर्गत उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में आश्रय स्थलों, ओल्ड एज होम एवं बाल सुधार गृह में रह रहे व्यक्तियों के सैम्पल के जांच की गयी।

उत्तर प्रदेश की बड़ी आबादी के बावजूद यहां कोरोना केसों व उससे होने वाली मौतों की रफ्तार थामने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खूब प्रशंसा मिल रही है...

प्रदेश में कोरोना संक्रमण सबसे ज्यादा उन लोगों को हो रहा है, जो अन्य बीमारियों से भी ग्रसित है। इसके साथ ही 51 से 60 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों को भी कोरोना संक्रमण के प्रति ज्यादा सजग रहने की आवश्यकता है

राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण से बचाव और इससे ग्रसित मरीजों के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। यही कारण है कि अन्य राज्यों के मुकाबले प्रदेश में कोरोना संक्रमण अधिक नहीं बढ पाया।

कोरोना महामारी से जूझ रहे उत्तर प्रदेश के लिए राहत वाली खबर है। प्रदेश में अब कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या कम होती जा रही है और इसके सापेक्ष इस बीमारी से ठीक होने वालों की संख्या बढ़ रही है।

यूपी के प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने बताया है कि प्रदेश के 71 जनपदों में 2130 कोरोना के मामले एक्टिव हैं। उन्होंने बताया कि अब तक 3099 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके हैं।

कानपुर में रविवार को 14 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से पूरे शहर में हडकंप मच गया। संक्रमितों में से 7 कानपुर के कुली बाजार के और अन्य 7 छात्र मदरसे के हैं।

कोरोना वायरस ने अब तक उत्तर प्रदेश के 30 जिलों में कोहराम मचा रखा है। नोएडा में 58 कोरोना संक्रमित मिले हैं। सरकार के तमाम उपायों के बावजूद कोरोना नोएडा...