-coronavirus-control

फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग और उनकी पत्नी प्रिसिला चैन ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जीतने के लिए कदम बढ़ाए हैं। इस जंग के खिलाफ इन दोनों ने फैसला किया है कि बिल और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन के साथ मिलकर दोनों पति-पत्नी 250 लाख अमेरिकी डॉलर दान देंगे।

विकास खण्ड के अंतर्गत पड़ने वाली सीएससी की हालत मानो सफेद हाथी नजर आ रही है। यहां न ही किसी भी प्रकार की सेनेटाइजर मशीन है और न ही थर्मल स्कैनर मशीन। जिस कारण कस्बा समेत क्षेत्रीय लोगो के लिए चिंता का विषय बना हुआ है।

चीन के वुहान से शुरू हुए कोरोना वायरस ने आज पूरी दुनिया में तबाही मचा के रखी है। हर देश इस महामारी से जूझ रहा है। लेकिन खबर ये आ रही है कि चीन में एक बार फिर से उसी तरह से मीट बाजार में जंगली जानवरों की बिक्री शुरू हो गई है।

जहां पूरी दुनिया कोराना वायरस की आफत से जूझ रहा है वही अब इस महामारी के खिलाफ भारत अब और मजबूती से लड़ाई लड़ेगा। इस जंग को जीतने के लिए एक पहली स्वदेशी किट बनी है जिसे एक महिला वायरोलॉजिस्ट ने बनाया है।

कोरोना से जंग आज पूरी दुनिया लड़ रही है। दुनिया भर में तबाही मचाने वाले इस वायरस के भारत में अब तक 1037 केस आ चुके हैं। लॉकडाउन के चलते हुए भी आकड़ा दिन प्रति दिन बढ़ता ही जा रहा है। भारत में इस वायरस से मरने वालो की संख्या 25 है।

21 दिनों के लॉकडाउन के आदेश के बाद से दिल्ली, बिहार, यूपी और झारखंड के मजदूर, कारीगर सभी अपने-अपने घर जाने का बैचेन हैं। उनकी इस बेचैनी के चलते लॉकडाउन से जीतने वाली जंग पर कोई तरह के सवाल खड़े होते जा रहे हैं।

महामारी कोरोना की आफत से दुनिया का कोई देश नहीं बच पाया है। भारत में लॉकडाउन के बावजूद भी कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे है। ताजा आकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोना पीड़ितों की संख्या 800 के पार पहुंच गई है।

कोरोना महामारी के कारण देशव्यापी लॉक डाउन के चलते जनपद में कोई भूखा ना सोए इसके प्रशासनिक स्तर पर सराहनीय व सकारात्मक प्रयास किए जा रहे हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने विभिन्न स्थानों का दौरा कर झोपड़पट्टी में रहने वाले व अन्य स्थानों पर जरूरतमंदों को भोजन का वितरण किया।

इटावा जिला प्रशासन ने शहर व जनपद के गरीब व असहाय लोगो के लिए कम्युनिटी किचिन खोला है। किचिन में बने खाने को शहर के गरीबो में अधिकारियों ने वितरित किया।

लॉकडाउन होने के बावजूद कोरोना वायरस के मामले लगातार पूरी दुनिया में तेजी से बढ़ रहा है। बढ़ते संक्रमण को लेकर सेंटर्स फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) ने बियर्ड यानी दाढ़ी रखने वाले लोगों को इस वायरस से खतरा होने की बात कही है।