cycle symbol

  गाजियाबाद: समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने साहिबाबाद विधानसभा सीट के लिए हो रहे चुनाव में वोट डाला। वोट डालने पहुंचे अमर सिंह ने इस मौके पर सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव के बारे में भी खुलकर बातें की। अमर सिंह ने कहा कि अभी मेरी हालत ‘इधर कुआं, उधर खाई’ जैसी …

चुनाव आयोग द्वारा अखिलेश यादव के पक्ष में फैसला देने के बाद अमर सिंह ने कहा कि मुलायम सिंह मुझे खलनायक नहीं मानते। इसके साथ ही अमर सिंह ने कहा कि मुझे जिस दिन बीजेपी में जाना होगा मैं डंके की चोट पर कहूंगा और खुले आम जाऊंगा। गौरतलब है कि सीएम अखिलेश यादव लगातार अमर सिंह पर पार्टी तोड़ने का आरोप लगाते रहे हैं।

चुनाव आयोग के फैसले के बाद मंगलवार (17 जनवरी) को मुलायम ने कहा कि वह यूपी विधानसभा चुनाव- 2017 में अपने प्रत्याशी नहीं उतारेंगे और मिलकर चुनाव लड़ेंगे। सूत्रों के अनुसार, मुलायम और शिवपाल चुनाव आयोग के फैसले के खिलाफ कोर्ट भी नहीं जाएंगे।

भारत निर्वाचन आयोग के अखिलेश यादव के पक्ष में फैसला आने के बाद लखनऊ स्थित जनेश्वर मिश्र पार्क में 1 जनवरी, 2016 (रविवार) को हुए आपातकालीन राष्ट्रीय प्रतिनिधि सम्मलेन और उसके प्रस्तावों पर भी कानूनी मुहर लग गई है। इसके मुताबिक, अखिलेश यादव ही सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और उनके द्वारा घोषित किए गए टिकटों की सूची ही अधिकृत है।

चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी और चुनाव चिन्ह साइकिल अखिलेश यादव को आवंटित की है जिसके बाद अखिलेश समर्थको में खुशी की लहर दौड़ पड़ी।

चुनाव आयोग के पूर्व सेक्रेटरी केजे राव ने बातचीत में कहा कि दोनों गुटों के बीच चुनाव चिह्न का टकराव जारी रहने की सूरत में सपा के साइकिल चुनाव चिह्न को फ्रीज़ करने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचता।