death

गुजरात के राजकोट और अहमदाबाद के सरकारी अस्पतालों में पिछले 200 बच्चों की मौत हो चुकी है। बच्चों की मौत की वजह कुपोषण, जन्म से ही बीमारी, वक्त से पहले जन्म, मां का खुद कुपोषित होना बताया जा रहा है।

राजस्थान के कोटा में बच्चों की मौत ने एक बार सियासत को गरमा दिया है। बच्चों की मौत को लेकर विपक्ष तो सरकार को निशाना बना रही है, लेकिन खुद सत्ताधारी लोगों के विचार ही इस मुद्दे पर एक-दूसरे से अलग हो गए है।

भारतीय रेलवे से लाखों यात्री हर रोज यात्रा करते हैं। रेलवे के लिए साल 2019 इस लिहाज से बेहद खास रहा। भारतीय रेलवे ने 166 साल के अपने लंबे इतिहास में कमाल कर दिया। 166 साल के लंबे इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि इस साल किसी भी यात्री की जान नहीं गई है।

सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या के मामले में 8 लोगों को दोषी करार दिया है। इस मामले में 5 लोगों को सजा- ए- मौत दी गई है।  तीन अन्य लोगों को कुल 24 साल जेल की सजा दी गई है।  जमाल सऊदी अरब के रहने वाले थे और वाशिंगटन पोस्ट के पत्रकार थे।

आरोपियों ने युवती का रेप के बाद उसे जिंदा जला दिया था, गंभीर हालत में उसे कानपुर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया था और दो दिन पहले हालत बिगड़ने की वजह वो कोमा में चली गई थी। गुरुवार तड़के सुबह रेप पीड़िता मौत हो गई।

तेलियाबाग इलाके में शनिवार की रात एक छात्रा की संदिग्ध मौत के बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। छात्रा तीन दिन पहले घर से गायब हुई थी और उसकी लाश चौबेपुर इलाके के ढकवा गांव के पास गंगा किनारे मिली थी।

चंदवक थाना क्षेत्र के गोबरा गांव के पुरवा कोड़रे में अज्ञात बदमाशों ने धारदार हथियार से गला काट कर एक वृद्ध महिला की हत्या कर दी। महिला के हत्या की खबर मिलते ही पूरे इलाके में सनसनी फ़ैल गई है।

पूर्णिमा श्रीवास्तव गोरखपुर। क्या कोई मां अपने कलेजे के टुकड़े के लिए मौत मांग सकती है? कोई बहन ये चाहेगी कि उसके भाई को इस दुनिया से मुक्ति मिल जाए? शायद नहीं। पर पूर्वांचल में तमाम मां ऐसी हैं जो अपने कलेजे के टुकड़े के लिए मौत मांग रही हैं। ऐसा नहीं कि उन्हें अपने …