defense minister rajnath singh

राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है, “पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ कुछ अन्य बिंदुओं पर तैनाती और गश्त के संबंध में अभी भी कुछ बकाया मुद्दे हैं।"

लखनऊ में न्यू कमांड हास्पिटल के शिलान्यास के अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यहां पहले से बने कमांड अस्पताल के पचास साल हो गए हैं। इसके बाद किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में स्थित कलाम सेन्टर पहुंचे और डॉक्टरों को पुष्प देकर सम्मानित किया।

लखनऊ में न्यू कमांड हास्पिटल के शिलान्यास के अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यहां पहले से बने कमांड अस्पताल के पचास साल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नए भारत के निर्माण के तहत ही नए कमांड अस्पताल का शिलान्यास किया जा रहा है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि उन्होंने गोवा के सीएम प्रमोद सावंत से भी बात की है। उन्होंने कहा कि 'पीएम ने भी सीएम सावंत से बात की। इसके बाद उन्होंने मुझे फोन कर दुख जाहिर किया और मुझे गोवा आने के लिए कहा। मैं भी यही सोच रहा था। श्रीपद नाईक अभी स्थिर हैं।

डॉ. मुरली मनोहर जोशी का जन्म पांच जनवरी 1934 को नैनीताल में हुआ। उनका पैतृक निवास उत्तराखंड का कुमायूं क्षेत्र है। बरेली से बीएससी करने के बाद उन्होंने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से एमएससी किया। यहीं से उन्होंने अपनी डॉक्टोरेट की उपाधि भी अर्जित की।

नए साल ने दस्तक दे दी हैं। साल 2021 के 1 जनवरी की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नव वर्ष शुभकामनाओं के साथ शुरू हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों के लिए नए साल की बधाई दी।

आकाश मिसाइल प्रणाली में सबसे अहम बात तो ये है कि इस मिसाइल सिस्टम दूसरे देशों को भी निर्यात किया जाएगा। बता दें, इस बारे में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने खुद ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर के जरिए ये जानकारी दी है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि वर्ष 2020 भारत - अमेरिका रक्षा सहयोग के मामले में बहुत महत्वपूर्ण रहा है। उन्होंने कहा कि इस दशक में डिफेंस के क्षेत्र में भारत - अमेरिका पार्टनरशिप आगे बढ़ कर एक रणनीतिक स्वरूप ले चुकी है।

राजधानी लखनऊ के सांसद और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जाने माने शिया धर्मगुरु मौलाना कल्बे सादिक के निधन पर दुख प्रकट करते हुए कहा कि वे आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड के उपाध्यक्ष रहे और हमेशा समाज मै भाईचारे को मजबूत करने पर बल दिया।

दुश्मनों को छक्के छुड़ाने के लिए भारत ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए मंगलवार को यानी आज क्विक रिएक्शन सर्फेस टू एयर मिसाइल्स (Quick Reaction Surface-to-Air Missile (QRSAM) का एक बार फिर सफल परीक्षण किया गया है।