delhi

कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा के बाद से देश की राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता में सुधार था।वायु गुणवत्ता सूचकांक बेहतर हो गया था लेकिन बीती रात हुई आतिशबाजी के कारण फिर हवा की गुणवत्ता खराब हो गई है।

रविवार को दिल्ली के लोकनायक जयप्रकाश अस्पताल में एक कोरोना संदिग्ध मरीज ने तीसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या करने की कोशिश की। जिसके बाद अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया।

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे हैं। निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के बाद यह मामला और बढ़ गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में अभी तक 219 कोरोना पॉजिटिव केस आए हैं।जबकि चार लोगों की मौत हुई है।

जमात को लेकर सियासी हमले भी शुरू हो गए हैं और इसका इतिहास भी खंगाला जाने लगा है। इस जमात के आतंकी कनेक्शन होने की बात सामने आने पर खुफिया एजेंसियों के भी कान खड़े हो गए हैं।

देश की राजधानी के निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमाअत के मरकज से होकर इत्रनगरी आए 11 लोगों को लेकर जिला प्रशासन संजीदा है। यहां के मरकज में ठहरे हुए सभी लोगों को क्वारंटाइन करवा दिया गया है।

पूरा देश इस समय कोरोना की चपेट में है। भारत में इस समय 1701 लोग कोरोना से संक्रमित हैं। जबकि 53 लोगों की मौत हो चुकी हैं। सरकार लोगों को घरों में ही रहने की अपील कर रही हैं।

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में आयोजित हुए तब्लीगी जमात में उन्नाव जिले की नगर पंचायत कुरसठ के रहने वाले दो मौलवी भी शामिल हुए थे।

देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। देश में इस जानलेवा वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। दिल्ली में संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 120 हो चुकी है।

तबलीगी जमात के सैकड़ों लोगों को निकालकर अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। जमात के 24 लोगों में कोरोना से संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है।

देश की राजधानी के हजरत निजामुद्दीन इलाके में स्थित मरकज़ के कार्यक्रम में शामिल होने वाले वाले 200 अन्य विदेशियों के अलग-अलग मस्जिदों में होने की जानकारी पुलिस की स्पेशल सेल ने....