Delhi election 2020

देश की राजधानी दिल्ली के विधानसभा चुनाव संपन्न हो चुके हैं। 11 फरवरी यानि मंगलवार को सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू हो जाएगी। हालांकि पूरी स्थिति का पता मतगणना के बाद ही साफ ​हो सकेगा, लेकिन एग्जिट पोल के हिसाब से दिल्ली में आम आदमी पार्टी की ही सरकार बनने जा रही है।

दिल्ली में विधानसभा चुनाव 2020 खत्म हो गये हैं, वहीं अब मतगणना और चुनाव परिणाम का इंतज़ार हो रहा है। इसी बीच ईवीएम (EVM) पर आरोप लगने का खेल शुरू हो गया है।

तो ग्रहों के हिसाब से मनोज तिवारी की स्थिति थोड़ा कमजोर लग रही है। फिलहाल सही स्थिति का पता 11 फरवरी को ही चल सकेगा जब चुनाव के परिणाम आएंगे।

बता दें कि दिल्ली में जहां सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी सत्ता में लौटने का प्रयास कर रही है वहीं, बीजेपी 20 साल बाद अपना मुख्यमंत्री बनाना चाहती है। दिल्ली पर 15 साल राज करने वाली कांग्रेस भी राष्ट्रीय राजधानी में दोबारा जनाधार पाने में लगी है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 के लिए शनिवार 8 फरवरी को मतदान होगा। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हनुमान मंदिर में पहुंचकर पूजा-अर्चना की।  केजरीवाल कनॉट प्लेस स्थित हनुमान मंदिर में अपने परिवार के साथ पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पूजा-अर्चना की।

दिल्ली विधानसभा चुनाव का प्रचार थमने में अभी कुछ दिन ही शेष है। मगर उससे पहले सभी पार्टियां अपना पूरा जोश दिखाने में लगी हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बीजेपी नेताओं द्वारा आतंकी बताए जाने के खिलाफ अब उनकी बेटी हर्षिता मैदान में उतर आई हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी शुक्रवार को अपना घोषणा पत्र जारी करने जा रही है। यह दिल्ली की जनता के सुझावों से तैयार किया गया है।

दिल्ली के चुनाव की रणभेरी बज चुकी है। राजनीतिक दलोें के नेताओं की सक्रियता देखते ही बन रही है चाहे वह भाजपा, कांग्रेस हो, बसपा हो अथवा कोई अन्य क्षेत्रीय दल का नेता क्यों न हो, पर इस चुनावी शोर मेें जनता की निगाहे अपनी उस नेत्री की तलाश कर रही हैं