development

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लखनऊ में विधानसभा चुनाव के लिए अपनी नीतियों और मुद्दों का ऐलान करते हुए घोषणापत्र जारी करेंगे। बताया जा रहा है कि विकास और कानून व्यवस्था के मुद्दों को घोषणापत्र में प्रमुखता दी गई है।

नेताओं के उपेक्षा के चलते अब पूरे इलाके में गिनी चुनी निजी चीनी मिलें ही चालू रह गई हैं। किसानों ने गन्ना उत्पादन छोड़ आजीविका के लिए पलायन शुरू कर दिया। आज भी चीनी मिलों पर हजारों किसानों का गन्ना भुगतान बकाया है, जिस पर नेताओं ने कभी गंभीर प्रयास नहीं किये।

छावनी क्षेत्र से समाजवादी पार्टी ने मो. हसन रूमी को मैदान में उतारा है। वह,2012 में भी सपा प्रत्याशी थे लेकिन बीजेपी के रघुनन्दन भदौरिया से हार गए थे। रूमी की लड़ाई फिर उन्हीं से है। सपा ने पहले यहां से बाहुबली अतीक अहमद को प्रत्याशी बनाया था, लेकिन अखिलेश यादव ने उनका टिकट काट दिया।

इस बार यह तय है, कि दोनों मंडलों में हिन्दुत्व, राममंदिर, गाय, गंगा, भारत माता का मुद्दा हावी नहीं रहा है। क्योंकि फर्टिलाइजर प्लांट के शिलान्यास में पहुंचे पीएम मोदी ने विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ने की बात कही थी।

सपा के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि देश को इस बिगड़ी अर्थ व्यवस्था से उबरने में 50 दिन नहीं, बल्कि कई साल लगेंगे। शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री ने बिना सोचे समझे यह कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि सभी व्यवसाय बंद हो गए हैं, लोग परेशान हैं और पूरा देश लाइन में लगा है।

डीजीपी जाविद अहमद ने यहां पुलिसकर्मियों से स्मार्ट पुलिसिंग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि पुलिस वालों को आम जनता से ठीक व्यवहार करना चाहिए। इससे जनता में भरोसा जागेगा, तो अपराध खुद कम होंगे। मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने लेखपालों को समस्या मौके पर निपटाने के लिए कहा।

माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री का सीधा निशाना खुद अपने मुख्य सचिव दीपक सिंघल पर ही था, जो अब विपक्ष के करीब बताए जा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार मुख्य सचिव दीपक सिंघल की कुछ तस्वीरें ऐसी तस्वीरें मुख्यमंत्री के हाथ लग गई हैं, जिनमें दीपक सिंघल विपक्षी नेताओं के साथ मौजूद हैं।

अमित शाह ने कहा कि आजादी मिले करीब 70 साल हो गए जिसमें 60 साल तक एक ही पार्टी या कहें एक ही परिवार का शासन रहा। इन 60 सालों में देश को आजादी दिलाने वाले शहीदों को भुला दिया गया । लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। बीजेपी के कार्यकर्ता देश केि सभी शहीद स्थलों पर जा कर शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित करेंगे ।

गोरखपुर: यूपी में पोस्टर वार जारी है। इस बार कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गोरखपुर में एक विवादित पोस्‍टर जारी किया है। पोस्‍टर में शीला दीक्षित को विकास की देवी बताया गया है और विपक्षी दलों को उनकी सुनामी में बहते दिखाया गया है। देवी बन गईं शीला -गोरखपुर जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यकर्ताओं ने शास्‍त्री चौक …

लखनऊ: विधानसभा चुनाव करीब आते ही अखिलेश सरकार ने यूपी में विकास कार्यों और कानून व्यवस्था की समीक्षा करने के लिए मुख्‍यसचिव को निर्देश दिए हैं। अब अफसर जिला, ब्लाक और तहसील स्तर पर सरकार के कार्यों की समीक्षा करेंगे। चीफ सेक्रेटरी दीपक सिंघल,डीजीपी जावीद अहमद समेत कई अफसर यूपी के गांव और गलियों में जाकर …