Dinesh Lal Nirahua

सपा के वोट बैंक में भी बढ़ोत्तरी नहीं हुई। ऐसे में गठबंधन भी जल्द ही टूट सकता है। ऐसी स्थिति में अगर पांच साल तक निरहुआ क्षेत्र में बने रहे तो उनकी राजनीतिक जमीन तैयार हो सकती है।