Earthquake

इंडोनेशिया में कल भूकंप (Earthquake) के झटके महसूस किये गए। इंडोनेशिया के कोटा टर्नेट क्षेत्र में कल शनिवार को 5.4 तीव्रता के साथ भूकंप ने दस्तक दी थी। इसकी जानकारी अमेरिका के भूवैज्ञानिक केंद्र ने दी है। 

उत्‍तराखंड का इतिहास बताता है कि यहां के भविष्‍य को भी भूकंप के कारण बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता है। यह कहना है आइआइटी के विशेषज्ञों की टीम का।

मौसम विभाग के अनुसार सुबह 8:39 बजे महसूस किये गये भूकंप का केंद्र 27.2 डिग्री अक्षांश तथा 126.7 देशांतर में धरती की सतह से 30 किलोमीटर की गहरायी में था। अभी तक सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गयी है।

जमैका और पूर्वी क्यूबा के बीच कैरिबियन सागर में मंगलवार को भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए हैं। रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 7.7 मापी गई है। भूकंप के ये झटके इतने प्रभावशाली थे कि इसने मैक्सिको से फ्लोरिडा और उससे आगे तक के क्षेत्र को हिलाकर कर रख दिया।

मौसम विभाग के अनुसार कुल्‍लू और लाहुल-स्‍पीति में पांच जगह हिमखंड गिरने की चेतावनी भी जारी की गई है और भूकंप के झटकों ने लोगों की चिंता और बढ़ा दी है। जिला प्रशासन और पुलिस ने लोगों को घरों से बाहर न निकलने की सलाह जारी की है।

बताया जा रहा है कि पिछले दो घंटे में भूकंप के दो बार झटके लगे हैं। इससे पहले 5.5 तीव्रता के भूकंप ने पूरे ईरान को हिला दिया था। इस भूकंप में कितना नुकसान हुआ है अभी तक इसकी जानकारी हासिल नहीं हो सकी है।

बड़ी खबर जापान से है, जहां गुरूवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किये गये। जानकारी के मुताबिक, जापान के पूर्वी तट के पास 5.6 तीव्रता का भूकंप आया है।

पाकिस्तान में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.6 मापी गई है। भूकंप का केंद्र गिलगित रहा और और इसकी गहराई 42 किलोमीटर बताई जा रही है।

देश में लगातार भूकंप के झटके आ रहे हैं कभी किसी राज्य में तो कभी किसी राज्य में। खबर है कि जम्मू-कश्मीर में भूकंप के जोरदार झटके महसूस किए गए हैं। यहां सोमवार रात को दो घंटे से भी कम समय में 4.7 से 5.5 तक की तीव्रता वाले भूकंप के चार झटके महसूस किए गए।