economy

नई दिल्ली: बीजेपी नेता और पूर्व वित्त राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने रविवार को दावा करते हुए कहा कि केंद्र सरकार यदि वर्ष 2024 तक पांच हजार अरब डॉलर यानी 350 लाख करोड़ रुपये की अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को हासिल कर लेती है तो देश से गरीबी विशेषतौर पर अत्यंत गरीबी के स्तर को बिल्कुल …

अर्थव्यवस्था की मार झेल रहे भारत के लिए एक और आर्थिक झटका लगा है। मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस ने वर्ष 2020 के लिए भारत की GDP ग्रोथ अनुमान 6.6 फीसदी से घटाकर 5.4 फीसदी कर दिया है।

मोदी सरकार ने 2024 तक भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था को 5 ट्रिलियन डॉलर की बनाने का लक्ष्य रखा है। इस लक्ष्‍य को हासिल करने के लिए आर्थिक सर्वेक्षण में कई अहम...

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने देशवासियों के घरेलू बजट के टूकड़े टूकड़े कर दिए हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट कर यह बातें कहीं।

एक फरवरी को बजट पेश किया जाएगा। बजट से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सक्रिय हैं और लगातार तमाम बैठकें हो रही हैं। हर क्षेत्र के दिग्गज के साथ खुद पीएम मोदी बातचीत कर रहे हैं। गुरुवार को भी नीति आयोग में एक बड़ी बैठक हुई जो करीब 2 घंटे तक चली।

गृह मंत्री अमित शाह ने शुक्रावार को कहा कि देश में मंदी का माहौल जल्‍द ही खत्‍म होगा। उन्‍होंने कहा कि इसके लिए पीएम मोदी की अगुआई में दिन-रात काम किया जा रहा है। अमित शाह ने हिमाचल प्रदेश के शिमला में आयोजित इनवेस्‍टर समिट के उद्घाटन समारोह में यह बातें कहीं।

17 दिसंबर  हो  चुका है, मतलब आधा महीना बीत गया है, लेकिन अब भी मटर का निमोना ,मूली और गोभी के परांठे घरों में कम बन रहे हैं। इतना ही नहीं, दूध और गाजर के भाव भी बढ़ने की वजह से इस बार हलवे का स्वाद भी नहीं पहुंच रहा है। यह कहना है गुड़गांव की मंडियों में मोलभाव करती महिलाओं का

अर्थव्यवस्था में सुधार के उपायों पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को कहा कि इस मसले पर काम जारी है। एसके साथ ही उन्होंने कहा कि आयकर में कटौती का विचार भी इनमें शामिल है।

वित्त मंत्री ने कहा कि 2009-14 में जहां 18950 करोड़ डॉलर का विदेशी निवेश हुआ था, वहीं 2014-19 के बीच यह बढ़कर के 28390 करोड़ डॉलर हो गया। विदेशी मुद्रा भंडार में भी बढ़ोतरी देखने को मिली है। 30420 करोड़ डॉलर से बढ़कर के 41260 करोड़ डॉलर हो गया था।

इससे पहले, सरकार ने डेडीकेटेड फ्रेट कॉरीडोर बनाने का ऐलान किया था और इस पर काम चल रहा है, फ्रेट कॉरीडोर से मालगाड़ियों की स्पीड में इजाफा होगा तो वहीं दिल्ली-हावड़ा रेलट्रैक पर भी मेल, एक्सप्रेस एवं सुपरफास्ट ट्रेनों की गति में सुधार होगा