Education

 अब छात्रों के लिए खुशी की खबर हैं। एक साथ दो डिग्री कोर्स जो छात्र करना चाहते हैं उनके लिए खुशखबरी है।  विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, यूजीसी ने इस आशय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जो छात्र अधिकारियों ने बताया कि हालांकि दो डिग्रियों को छात्रों को अलग-अलग माध्यमों से पूरा करना होगा जिसमें एक रेग्युलर माध्यम से और दूसरा दूरस्थ शिक्षा माध्यम (ओडीएल) के जरिए किया जा सकता है।

कोरोना महामारी को देखते हुए आज सरकार द्वारा उठाए गए कदम – मनरेगा, स्वास्थ्य और शिक्षा से संबेधित, कारोबार और कोविड, कंपनी एक्ट का गैर-अपराधीकरण, इज ऑफ डूइंग बिजनेस, सार्वजनिक उपक्रम, राज्य सरकार के संसाधन को लेकर थे। इनमें टेक्नोलॉजी ड्रिवन एजुकेशन के लिए भी कदम उठाए गए हैं। इसके तहत पीएम ई-विद्या को तुरंत लॉन्च किया जाएगा। यह प्रोग्राम डिजिटल या ऑनलाइन पढ़ाई के  लिए होगा।

जनस्वास्थ्य क्षेत्र में निवेश बढ़ाया जाएगा। इसके लिए रिफॉर्म्स किए जाएंगे। ग्रामीण स्तर पर ऐसी सुविधाएं देने की आवश्यकता है जो महामारी की स्थिति में लड़ने की क्षमता हो। इसके लिए स्वास्थ्य के क्षेत्र में निवेश बढ़ाया जाएगा।

डेटा साइंस एक लोकप्रिय करियर विकल्प है। समय के साथ-साथ डेटा साइंस का स्कोप बढ़ता जा रहा है। देश में ही नहीं बल्कि विदेश में भी डेटा साइंस वालों के लिए कई अवसर होते हैं। डेटा साइंस के तहत आंकड़ों का अध्ययन और विश्लेषण किया जाता है

स्नातक करने वालों के बीच मास्टर इन बिजनेस एड्मिनिसट्रेशन एडमिनिस्ट्रेशन या एमबीए काफी लोकप्रिय करियर विकल्प है। हर साल लाखों की संख्या में छात्र कॉमन एडमिशन टेस्ट (कैट) में शामिल होते हैं और इसके माध्यम से विभिन्न कॉलेजों में प्रवेश लेते हैं।

कोविड – 19 महामारी के चलते छात्रों और अभिभावकों को हो रही समस्याओं को ध्यान में रखते हुए एनटीए (राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी ) ने विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं के लिए आवेदन की तिथियों को फिर से बढ़ा दिया है। एनटीए ने नई तिथियों के बारे में अपडेट 30 अप्रैल 2020 को जानकारी दी है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद 12 जुलाई को जूनियर रिसर्च फेलोशिप के अनुदान के लिए कंप्यूटर आधारित परीक्षा आयोजित करेगा। इसका आयोजन पोस्टग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च चंडीगढ़ और के सहयोग से किया जाएगा।

नई गाइडलाइन के मुताबिक क्लास रूम में बैठने से लेकर लाइब्रेरी, मेस, कैंटीन और हॉस्टलों में रहने तक के नियमों में बदलाव करने का विचार किया जा रहा है।

आप अपने शौक को ही करियर के तौर पर चुनें तो ये आपके लिए सबसे सही विकल्प होता है, क्योंकि उसमें आपकी रुचि होती है। सो, अगर आप खाना बनाने का शौक रखते को आप शैफ के तौर पर एक अच्छा करियर बना सकते हैं।

प. बंगाल स्थित मौलाना अबुल कलाम आज़ाद प्रौद्योगिकी  विश्वविद्यालय ने नए सत्र में विभिन्न अंजरग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। इसमें प्रवेश कॉम एंट्रेंस टेस्ट (सीईटी) और ज्वॉइंट एंट्रेंस मैनेजमेंट एप्टीट्यूड टेस्ट (जेईमैट) के जरिए होता है