england

दरअसल, चैम्पियनशिप के तहत होने वाली हर टेस्ट सीरीज में दोनों टीमों के बीच कुल 120 अंकों का बंटवारा किया जा रहा है। फिर चाहे अलग-अलग सीरीज में मैचों की संख्या अलग-अलग ही क्यों ना हो।

सभी को बचपन से सिखाया जाता है कि उनकी लाइफ में उनका टीचर ही उनका सब कुछ है। जिसकी जगह भगवान से भी उपर होती है लेकिन हम आपको एक ऐसी बात बताने जा रहें हैं जिसके बाद आप सबका टीचर के प्रति नजरिया ही बदल जाएगा। ये बात है इंग्लैंड की जहां एक महिला टीचर को घिनौनी हरकत की वजह से 2 साल की सजा सुनाई गयी है।

वर्ल्ड कप 2019 इंग्लैंड में खेला गया था और फाइनल मुकाबले में जैसा रोमांच देखने को मिला, उसका इंतजार हर क्रिकेट फैन को होता है। अब 4 साल बाद अगला क्रिकेट वर्ल्ड कप देखने को मिलेगा, जिसे भारत में आयोजित किया जाएगा।

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 का फाइनल मुकाबले से पहले आइए डालते हैं आकड़ों पर एक नजर और देखते हैं कि कौन सी टीम किसपर भारी पड़ रही है। साल 1973 से अब तक दोनों टीमों के बीच 90 मुकाबले खेले गए हैं।

न्यूजीलैंड की टीम में छह खिलाड़ी ऐसे हैं जो पिछली बार विश्व कप फाइनल खेल चुके हैं। विलियमसन 548 रन बना चुके हैं जबकि रोस टेलर ने 335 रन बनाये हैं। गेंदबाजी में मिशेल सेंटनेर, जिम्मी नीशाम, कोलिन डे ग्रांडहोमे भरोसेमंद साबित हुए हैं।

आईसीसी वर्ल्ड कप मुकाबले में खेले गए दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर इंग्लैंड वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंच गया है। 1992 के बाद पहली बार है जब इंग्लैंड की टीम वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची है।

साल 1996 में भारतीय टीम इंग्लैंड के दौरे पर गई थी। इसी सीरीज से टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की। इस सीरीज के दौरान सौरव गांगुली और नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एक ऐसी घटना भी घटी थी जिसे वो आज तक भुल नहीं पाए होंगे।

गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन की बदौलत मेजबान इंग्लैंड ने बुधवार को वर्ल्ड कप के मुकाबले में न्यूजीलैंड को 119 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही इंग्लैंड टीम सेमीफाइनल में पहुंच गई है। इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 305 रन बनाए।

इंग्लैंड के पास जीत हार का अंतर पैदा करने वाला गेंदबाज है. जोफ्रा आर्चर इंग्लैंड के सबसे अहम गेंदबाज हैं, जिनके बाद अच्छा पेस है, जो दुनिया के किसी भी बल्लेबाज को असहज कर दें। बारबाडोस के जन्मे आर्चर ने अप्रैल 2019 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पर्दापण किया था।

आईसीसी विश्व कप में रविवार को इंग्लैंड और खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही टीम इंडिया रविवार को आमने-सामने होगी। इस टूर्नामेंट में अभी तक टीम इंडिया एकमात्र अजेय टीम है और वह इंग्लैंड के खिलाफ भी अपने इस अभियान को जारी रखना चाहेगी।