expensive

चीन से इंपोर्ट पर बैन लगने और चीन विरोधी माहौल बनने का असर अब दिखने लगा है। ऐसा होने की वजह से अब मोबाइल एसेसरीज (Mobile Accessories) के दाम बढ़ गए हैं।

कोरोना संकट के बीच लोगों के ऊपर एक बार फिर महंगाई का बोझ बढ़ गया है। दरअसल पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। इसी कड़ी में शुक्रवार को पेट्रोल-डीजल फिर एक बार महंगा हो गया।

अनलाॅक 1 लागू होने के बाद दिल्ली सरकार ने मंगलवार से सीएनजी के दाम में प्रति किलो 1 रुपये बढ़ोतरी कर दी है। सीएनजी की नई दर 2 जून यानी आज सुबह 6 बजे से लागू हो गई।

झारखंड में पेट्रोल और डीजल के दाम महंगे हो सकते हैं। कहा जा रहा है कि पेट्रोल 2 रुपये तो वहीं डीजल 4 रुपये तक महंला हो सकता है। राज्य सरकार पेट्रोल और डीजल पर टैक्स बढ़ाने की तैयारी में हैं।

प्रीपेड और पोस्टपेड प्लान्स की कीमत में 60 से 80 प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी हो सकती है। एक रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है।

टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन आइडिया ने मोबाइल डेटा के लिए शुल्क बढ़ाकर न्यूनतम 35 रुपये प्रति GB की दर तय करने की मांग की है। यह मौजूदा दर का करीब सात-आठ गुना है।

शनिवार 1 अप्रैल को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण संसद में देश का बजट पेश किया। उन्होंने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल (2.0) का दूसरा बजट पेश किया है। ये दूसरी बार है जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा संसद में बजट पेश किया गया।

नए साल का पहला ही दिन उपभोक्ताओं के लिए तगड़ा झटका बनकर आया है। नए साल के एक जनवरी को एक बार फिर रसोई गैस सिलेंडर के दाम में बढ़ोत्ततरी हुई है। बता दें कि ये लगातार चौथा महीना है जब रसोई गैस सिलेंडर के दाम में वृद्धि हुई है।

लागू की गई नई दरों के मुताबिक, राजधानी, दुरंतो और शताब्दी ट्रेनों में सेकेंड एसी के यात्रियों को चाय के लिए अब 10 रुपये की जगह 20 रुपये देने होंने, जबकि स्लीपर क्लास के यात्रियों को 15 रुपये देने होंगे। पहले

दूरसंचार विभाग (डी.ओ.टी.) ने अनुमान लगाया है कि, अगर टैरिफ में 10 पर्सेंट की वृद्धि कर दी जाए तो टेलीकॉम कम्पनियों को अगले 3 साल में करीब 35,000 करोड़ रुपए की अतिरिक्त कमाई होगी।