facilities

बैंक से संबंध रखने वालों के लिए ये बेहद जरूरी खबर है। देश के सभी सरकारी बैंक अब अपने ग्राहकों को घर पर ही बैंकिग सुविधाएं देंगे। बैंक की इस सेवा का सबसे ज्यादा फायदा वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों को होगा। बैंक ग्राहक अब घर बैठे ही अपने खाते में पैसा जमा कर और निकाल भी पाएंगे। 

देश में निजी कंपनियों द्वारा संचालित पहली ट्रेन तेजस एक्सप्रेस लखनऊ और दिल्ली के बीच चलाई जाएगी। रेलवे बोर्ड ऐसे दूसरे मार्ग पर भी विचार कर रहा है और वह भी 500 किलोमीटर के क्षेत्र में होगा। मुसाफिरों को आधुनिक सुविधाएं देने के लिए भारतीय रेल ने ट्रायल बेसिस पर यह ट्रेन आईआरसीटीसी को देने का फैसला किया है।

हरदोई: एक तरफ जहां आज देश प्रति के रास्ते पर बढ़ रहा है, वहीं यूपी में एक ऐसा भी गांव भी है, जहां आजादी के बाद से आज तक कोई विकास नहीं हुआ है। जहां मानो सुविधाओं का अकाल पड़ा हुआ है। सूबे की योगी सरकार ने भी अभी इस गांव की और कोई ध्यान …

अभी तक छात्रों तथा वृद्धों को 400 रूपये प्रतिमाह धनराशि दी जाती थी। भाजपा के संकल्प पत्र के अनुसार सहायता धनराशि को ढाईगुना बढ़ा कर 1000 रूपये प्रतिमाह करने का प्रस्ताव मुख्यमंत्री के पास प्रस्तुत किया है जिसे शीघ्र ही कैबिनेट में प्रस्तुत किया जाएगा।

जवान ने सेना को मिलने वाली सुविधा का समर्थन किया है लेकिन कहा है कि वैसी सुविधाएं सीआरपीएफ को भी मिलनी चाहिएं। जवान ने अपना दर्द बयान करते हुए यह भी कहा है कि सीआरपीएफ जवानों के दर्द को आखिर कौन समझेगा। जवान ने लोगों से मैसेज पीएम मोदी तक पहुंचाने की अपील की है।

मतदान स्थल पर दिव्यांगों के लिए खास तैयारियां की गई हैं। पर्दानशीन महिलाओं के बूथ पर केवल महिला अधिकारी होंगे। महिला बूतों पर पीठासीन अधिकारी से लेकर सभी कर्मी महिला होंगी और सुरक्षा व्यवस्था भी महिला पुलिसकर्मियों के हाथ में होगी।

प्रदेश में इसकी शुरुआत बस्ती से हुई है, जहां 14 प्रखंडों के लिए 14 एंबुलेन्स दी गई हैं। एंबुलेंस में एक लैब असिस्टेंट के साथ दवाएं और अत्याधुनिक उपकरण मौजूद होंगे। एंबुलेंस सेवा की रोजाना मॉनीटरिंग की जाएगी।

बस में एक पैनिक बटन भी दिया गया है। चालक के बटन दबाते ही पांच सेकंड में लाइव एचडी रिकॉर्डिंग पुलिस कंट्रोल रूम पहुंच जाएगी। इस रिकॉर्डिंग को जूम इन और जूम आउट कर आसानी से देखा जा सकेगा। हर सीट के नीचे एक स्टॉप बटन है। स्टॉप आने पर मुसाफिरों को कंडक्टर या चालक के पास नहीं जाना पड़ेगा।

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के एसआईसी एचआर यादव ने बताया कि मरीजों की संख्या में पिछले साल की अपेक्षा इस साल मरीज बढ़े हैं। लेकिन सभी प्रकार की सुविधाएं मुहैय्या हैं। डेंगू के लिए 9 बेड का अलग वार्ड बनाया गया है। जरुरत पड़ी तो यह संख्या बढ़ाई जाएगी। लेकिन मरीजों के तीमारदार व्यवस्था की शिकायत करते हैं।

आयोग ने कहा कि मतदान में सभी एलिजिबिल नागरिकों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 18 वर्ष की उम्र पूरी कर चुके युवाओं का पहचानपत्र बनाने के लिए अभियान चलाया जाए। मतदाताओं की सुरक्षा और बूथ पर सुविधाओं को लेकर भी आयोग ने अधिकारियों को निर्देश दिए।