fani cyclone

मुख्य सचिव ए. पी. पधी ने बताया कि जिले के लोगों को बिजली उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। राज्य कैबिनेट ने प्रभावित परिवारों को एक-एक हजार रुपये की अतिरिक्त राशि देने का फैसला किया है।

इस योजना को उच्च स्तरीय बैठक में मंजूरी मिली है। यह बैठक मुख्य सचिव एपी पढ़ी की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुई थी। योजना के अनुसार 2019-20 में लगभग 130.5 लाख पेड़ लगाए जाएंगे।

इसलिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चक्रवात 'फानी' से प्रभावित ओडिशा के परिवारों की मदद के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष से 10 करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। 

ओडिशा में चक्रवाती तूफान ‘फोनी’ की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या शनिवार को बढ़कर 16 पर पहुंच गई है। राज्य के लगभग 10,000 गांवों और 52 शहरी क्षेत्रों में युद्धस्तर पर राहत एवं पुनर्वास कार्य प्रारंभ कर दिये गए हैं और इस तूफान से करीब एक करोड़ लोग प्रभावित हुये हैं।

अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि आंध्र प्रदेश में चक्रवाती तूफान की वजह से 58.61 करोड़ रुपये का नुकसान पहुंचा है। मुख्य तौर पर यह नुकसान श्रीकाकुलम जिले में हुआ जिसकी सीमा ओडिशा से लगती है। हालांकि, 24 घंटे के भीतर हालत सामान्य होने लगे।

फानी तूफान कानपुर और आसपास के जिलों को बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है। सीएसए के मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि चार और पांच अप्रैल तक तूफान मध्य यूपी में प्रवेश करेगा।

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रदीप सिन्हा ने आज यहां बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की आज राज्य में कोडरमा, खूंटी और रांची में होने वाली तीनों चुनावी सभाएं खराब मौसम की आशंका में रद्द कर दी गयी हैं।

चक्रवात के पहुंचने से पहले ही तमिलनाडु और अन्य पड़ोसी दक्षिण भारतीय राज्यों में मौसम के बेहद खराब होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। करीब छह महीने पहले गाजा चक्रवात से भी भीषण तबाही मची थी।