g20-summit

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जी20 देशों के नेताओं से अपील की है कि सभी देश मिलकर वैश्विक महामारी कोविड19 से लड़ाई लड़े। पीएम मोदी ने कहा कि यह वक्त इस बात की चर्चा करने का नहीं है कि कोविड-19 की उत्पत्ति कहां से हुई।

पीएम नरेंद्र मोदी गुरुवार यानि आज कोरोना वायरस पर जी-20 सम्मेलन में शामिल होंगे। कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार ये सम्मेलन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हो रहा है। इसलिए इसे जी-20 वर्चुअल समिट नाम दिया गया है। इस बार जी-20 सम्मेलन के आयोजन का जिम्मा सऊदी अरब के पास है।

जी-20 सम्मेलन में हिस्सा लेने जापान पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित किया। पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि दुनिया आज भारत को संभावनाओं के 'गेटवे' के तौर पर देखती है। 7 महीने बाद एक बार फिर मुझे जापान की धरती में आने का मौका मिला।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि वह जी-20 में शिखर सम्मेलन में बहुपक्षवाद में सुधार के लिए भारत के मजबूत समर्थन पर जोर देंगे, जो नियम आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था को बनाये रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

एक बयान में व्हाइट हाउस ने कहा, ‘‘(दोनों) नेता ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन में एक-दूसरे से मुलाकात को लेकर उत्सुक हैं। वहां अमेरिका, भारत और जापान एक स्वतंत्र एवं खुले भारत-प्रशांत के लिए अपनी साझा दृष्टि पर काम के लिए एक त्रिपक्षीय बैठक करेंगे।’’

पीएम मोदी 29 नवंबर से एक दिसंबर 2018 के बीच होने वाले जी-20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए अर्जेंटीना की राजधानी ब्यूनस आयर्स में पहुंचे हैं। जी-20सम्मेलन में पीएम मोदी ने अन्य देश के नेताओं से बाचीत की।

हांगझोऊ (चीन): G-20 समिट में सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी और अमेरिकी प्रेसिडेंट बराक ओबामा की मुलाकात होगी। दोनों नेताओं की ये आठवीं मुलाकात है। समिट में रविवार को फैमिली फोटो लेने के दौरान दोनों नेता नजर आए थे। ओबामा ने भारत में जीएसटी बिल पास किए जाने पर मोदी की तारीफ की थी। यह …

हांगझोउ: जी-20 सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हम ऐसे समय में मिल रहे हैं, जब विश्व को जटिल राजनीतिक और आर्थिक चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। पीएम ने कहा, कि जी -20 को सामूहिक, समन्वित और लक्ष्य बनाकर कार्रवाई करने की जरूरत है। इस दौरान पीएम नरेंद्र …

नई दिल्ली: पीएम मोदी वियतनाम दौरे के लिेए रवाना हो गए हैं। इसके बाद वो G-20 समिट में शिरकत करने के लिए चीन पहुंचेंगे। वियतनाम का दौरा करके मोदी चीन को वहां पहुंचने से पहले ही अपने तेवर बताना चाहते हैं। इस दौरे पर मोदी ब्रम्होस मिसाइल के अलावा पेट्रोल बोट और क्रूड ऑयल सेक्टर में करार …