girls

घटना थाना कांट क्षेत्र की है। यहां की रहने वाली 4 और 7 साल की दो चचेरी बहने सोमवार की दोपहर मदरसे मे पढ़ने गई थीं। लेकिन उसके बाद वह वापस घर नही लौटी।

उन्नाव जिले के एक खेत में बुआ-भतीजी और चचेरी बहन गंभीर स्थिति में पेड़ से बंधी मिली। तीनों लड़कियों के गले कसे हुए और हाथ बंधे हुए मिलने की परिवार वालों की बात को पुलिस नकार रही है। जिले का बबुरहा गांव छावनी में तब्दील हो गया है। गांव में जगह-जगह बैरियर लगा दिए गए हैं।

राज्य के सभी संयुक्त शिक्षा निदेशकों तथा जिला विद्यालय निरीक्षकों के साथ समीक्षा बैठक करते हुए अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला ने आगामी 17 अक्टूबर से प्रारम्भ हो रहे नारी सुरक्षा तथा नारी सम्मान से संबंधित ‘मिशन शक्ति’ कार्यक्रम के संबंध में निर्देश देते हुए कहा कि हर विद्यालय में विशाखा समिति का गठन किया जाय तथा बालिकाओं को आत्मरक्षा के संबंध में प्रशिक्षण दिया जाय।

भारत में आज भी लिंगभेद किया जा है। लड़के और लड़कियों में फर्क किया जाता है। ये बात एक रिपोर्ट में सामने आई है। सन् 2017 से 2030 के दौरान भारत में 68 लाख कम लड़कियां पैदा होंगी।

किसी भी रिश्ते की डोर बहुत कच्ची होती है जो कभी भी टूट सकती हैं। आज के समय में यह आम बात है। लोगों की लोगों के न लव अफेयर लंबे होते है और न ही शादी ही। छोटी-छोटी बातों पर ब्रेकअप होते है , ऐसे लड़कों से  लड़कियों को बचकर रहना चाहिए, जो लड़की को सिर्फ फिजकली पाना की चाहत रखते हैं

शिवपर्व शुरू हो चुका है। शिव दिवस से ही शुरू और शिव दिवस को ही समाप्त हो रहा यह सावन बहुत ही महत्वपूर्ण है। इस बार भगवान शिव का प्रिय मास सावन में  विशेष संयोग बन रहा है। खास यह कि सोमवार से इस माह की शुरुआत हो रही और समापन भी सोमवार को ही होगा।

आजकल युवाओं में खासकर लड़कियों में अकेले रहने की टेंडेंसी बढ़ती जा रही है। आजकल की सेल्फ डिपेंडेंट लड़कियां अब किसी के साथ की बजाय अकेले रहने को ज्यादा तवज्जो दे रही है।

लड़के, लड़कियों की तरफ आकर्षित तो होते हैं, लेकिन उन्हें अपनी ओर आकर्षित करने में विफल होते हैं। क्योंकि इसके लिए जरूरी होता है ये जानना कि लड़कियों  की पसंद क्या हैं और उसका स्वभाव कैसा हैं। 

सर्दियों का मौसम जाने को तैयार है गर्मियों का मौसम आने वाला हैं और इस मौसम में लड़कियां अक्सर कट स्लीव पहनना पसंद करती हैं। लेकिन जरा संभलकर कहीं कट स्लीव में नजर ना आने लगे आपके डार्क अंडरआर्म्स और आपको शर्मिंदा ना कर दे। जी हां, देखा गया हैं कि लड़कियां अपने चहरे को तो खूबसूरत बनाने के कई जतन कर लेती हैं ले