google

जब यूजर्स ने द्वितीय विश्व युद्ध के समय के लीडर्स या ब्रिटिश प्रधानमंत्रियों के बारे में गूगल पर सर्च किया तो उन्हें चर्चिल की फोटो गायब दिखी।

कंपनी की ओर से इस नए फीचर के बारे में बताया गया कि ये फीचर YouTube के वेलनेस और स्क्रीन टाइम टूल्स के तहत लाया गया है।इस फीचर मदद से आप टाइम से सो सकते हैं।

गूगल ने दुनिया के विभिन्न देशों में लोगों के फोन लोकेशन का इस्तेमाल कर यह पता लगाने की कोशिश की है कि लॉकडाउन की वजह से बाजारों, किराना और दवा की दुकानों, बस और रेलवे स्टेशनों और दफ्तरों में लोगों के आने-जाने पर कितना असर पड़ा है।

Google Messages ऐप प्ले स्टोर पर रिकाॅर्ड डाउनलोड किया गया है। ऐंड्रायड के लिए गूगल का यह नेटिव ऐप प्ले स्टोर पर 1 अरब से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका है।

लॉकडाउन में नौकरी गंवाकर घर बैठे तमाम लोगों के लिए ये खबर काफी उपयोगी साबित हो सकती हैं। दरअसल पिछले 4 हफ्तों में कई कंपनियों द्वारा 2 लाख से अधिक जॉब्स के लिए विज्ञापन दिये जाने की बात सामने आई है।

देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच फ्रंटलाइन योध्दा अपनी सहभागिता दिखा रहे हैं। डॉक्टर्स के साथ ही इस संकट की घड़ी में शिक्षकों भी काफी योगदान दे रहे हैं।

बता दें कि किलर कोरोना वायरस से सबसे ज्याादा प्रभावित अमेरिका में मरने वालों की संख्याि 26 हजार पहुंच गई है। वहीं अमेरिका में संक्रमित लोगों की संख्या भी 6,13,886 पहुंच गई है।

श्री नारायण गुरुकुलम कॉलेग ऑफ इंजिनियरिंग का प्रतीश नारायणन B.Tech फाइनल इयर के स्टूडेंट हैं। केरल का ये छात्र बग ढूंढकर लाखों की कमाई कर रहा है। इस छात्र ने हाल ही में गूगल के एक बग को रिपोर्ट किया है, जिसके बाद कंपनी ने उन्हें 10,000 डॉलर यानी कि करीब 7.6 लाख रुपये का इनाम दिया है।

पीएचडी फेलोशिप प्रोग्राम 2020 गूगल की ओर से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। आगे दी गई फील्ड्स में काम करने के इच्छुक छात्र गूगल पीएचडी फेलोशिप प्रोग्राम 2020 के लिए आवेदन कर सकते हैं। फील्ड का नाम है ऐल्गोरिथम्स, ऑप्टिमाइजेशंस एंड मार्केट्स, कंप्यूटेशनल न्यूरोसाइंस, ह्यूमन कंप्यूटर इंटेरेक्शन, मशीन लर्निंग, मशीन पर्सेप्शन,

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में गूगल (Google) का एक कर्मचारी कोविड-19 यानि कोरोना वायरस (Corona virus) से संक्रमित पाया गया है। जानकारी के मुताबिक, ये शख्स हाल ही में यूनान की यात्रा से लौटा था।