gorakhpur news

वर्तमान में सरकारी अस्पताल और नर्सिंग होम में सर्वाधिक दिक्कत स्पेस की है। कोरोना संक्रिमतों को पास-पास रखना संभव नहीं है।

मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश देते हुए कहा कि कोविड-19 और इंसेफेलाइटिस के प्रकोप पर हर हाल में अंकुश लगाया जाए। सावधानियों के बावजूद यदि किसी को बीमारी हो जाए तो उसे अच्छे से अच्छा इलाज दिया जाए।

गोरखपुर के सभी थाना क्षेत्रों में महिला आरक्षियों को आज 100 स्कूटी दिए गए हैं, ताकि वह अपने क्षेत्रों में गश्त कर सकें।

गोरखपुर में सोनौली रोड स्थित एक होटल में दोनों ने सात फेरे लिए। इस खुशी के मौके पर विधायक के पिता और यूपी सरकार के पूर्व मंत्री अमर मणि त्रिपाठी शामिल नहीं हो सके।

बता दें कि अमनमणि त्रिपाठी प्रदेश सरकार में पूर्व मंत्री अमरमणि त्रिपाठी के बेटे हैं। कवियत्री मधुमिता शुक्ला हत्याकांड में वह आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं।

वर्तमान परिवेश में छात्र-छात्राओं पर अधिक अंक लाने का दबाव है। यह दबाव सिर्फ अपने शिक्षकों और सहपाठियों का ही नहीं अभिभावकों का भी है। इस दबाव में कई बार प्रतिभाएं बिखर जाती हैं।

किसान और नौजवान विरोधी इस सरकार ने आपदा को अवसर बनाया है। जब देश कोरोना और चीन बार्डर पर हिसंक झड़पों को लेकर चिंतित है, ऐसे में सरकार ने लगातार 18 वें दिन डीजल और पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोत्तरी कर दिया है।

फिलहाल मजदूर मुंबई जाने से तो बच रहे हैं लेकिन अहमदाबाद और सूरत जाने वाली ट्रेनों से प्रवासी मजदूरों की वापसी होने लगी है। गोरखपुर रेलवे स्टेशन से रवाना होने वाली अवध एक्सप्रेस से ठीक ठाक संख्या में मजदूरों की वापसी हो रही है।

उद्यमी आकाश जालान दफ्तरों में एल्मुनियम के उत्पाद के लिए कच्चा माल चीन से मंगाते रहे हैं। इस तरह का उत्पाद बनाने वाली फैक्ट्रियों में चीन से माल मंगाने की मजबूरी है।

इसे जिला और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की लापरवाही न कहें तो और क्‍या कहें? स्‍वास्‍थ्‍य विभाग ने नाम की गफलत में निगेटिव रिपोर्ट वाले युवक को बीआरडी...