government school

जुलाई की पहली तारीक से सभी शिक्षकों को स्कूल में रहने के आदेश भी दे दिए गए है . इस दौरान उन्हें मुख्यत लॉकडाउन अवधि व गर्मी की छुट्टियों के 76 दिनों का मिड डे मील राशन व कन्वर्जन कॉस्ट को अभिभावकों तक पहुंचाने की तैयारी शुरू हो गई है

स्कूल में मदरसे वाली प्रार्थना को लेकर हिंदू संगठनों ने पीलीभीत के जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव को ज्ञापन देकर आरोपी प्रधानाध्यापक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति के नियमों में बदलाव होगा। इसके तहत माध्यमिक कक्षाओं में शिक्षण के लिए नियुक्त होने वाले ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर (टीजीटी) के पदों पर आवेदन के लिए अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष होगी। अभी तक यह 32 वर्ष थी।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को लोकभवन में उच्च शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा एवं बेसिक शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए कहा सरकारी स्कूल 25 जून को खुल जाएं, बच्चे भले ही 1 जुलाई से आएं।

दरअसल शाहजहांपुर के बीएसए राकेश कुमार ने एक लिखित आदेश सभी सरकारी स्कूलों को जारी किया है। जिसमे कहा गया है। अब सभी सरकारी स्कूलों के प्रधानाध्यापक को एक रजिस्टर बना लें। उसके बाद मिड डे मिल के लिए मिलने वाले गेंहूं को आटा चक्की पर पिसवाने के आदेश जारी किए है।

इटावा: यूपी के इटावा में शिक्षा विभाग ने शासन से बिना कोई बजट आये दुकानदारों से उधार में स्वेटर और जूते मोज़े लेकर बच्चो को बांटकर एक सराहनीय​ कार्य किया है। ये भी पढ़ें— 68500 शिक्षक भर्ती: सरकार को राहत, कोर्ट ने भर्ती प्रक्रिया की जांच CBI से कराने पर लगायी रोक शिक्षा विभाग को शासन …

सुल्तानपुर: वर्तमान समय की शिक्षा प्रणाली पर भी राजनीतिक छाप देखनें को मिल रही है। राज्य सरकार का गठन हुए डेढ़ वर्ष से अधिक का समय बीत गया अब जब लोकसभा चुनाव सर आया तो सरकार को जिले के सरकारी स्कूल में आनें वाले बच्चों की याद आई। सरकार की ओर से जिले के दो …

गोरखपुर: गोरखपुर के तिलौली में संचालित एक प्राइमरी स्कूल में कान्वेंट जैसी फैसिलिटी है। ये सब स्कूल के टीचर्स की बदौलत संभव हो पाया है। उनकी पहल पर सरकार और गोरखपुर जिला प्रशासन ने इस स्कूल को पायलट प्रोजेक्ट के तहत इंग्लिश मीडियम बना दिया है। स्कूल के अंदर बच्चों की उपस्थिति शत- प्रतिशत है। newstrack.com …

सहारनपुर: जब बात प्रदेश और देश की शिक्षा की होती है तो सबसे पहले निजी क्षेत्र के अच्छे स्कूलों की बात होती है। और बात जब सरकारी स्कूलों की होती है तो कोई भी व्यक्ति सरकारी स्कूलों में अपने बच्चे को भेजने की बात नहीं करता है। केवल वही व्यक्ति सरकारी स्कूलों की ओर रूख …

कानपुर: कहते हैं कि एक अच्छे राष्ट्र के निर्माण में अध्यापकों का बहुत योगदान होता है क्योंकि वो ही देश के भविष्य यानि की नौनिहालों को अच्छी शिक्षा देते हैं। लेकिन आज हम एक ऐसे अध्यापक का चेहरा दिखाने जा रहे हैं, जिसे देखकर आपको शर्म के साथ-साथ क्रोध भी आएगा क्योंकि ऐसे अध्यापक हमारे …