gujarat

गुजरात में राज्‍यसभा चुनाव के बाद अब सत्ताधारी दल भाजपा और विपक्षी दल कांग्रेस ने उपचुनाव की तैयारी में जुट गई है। गुजरात में जल्द ही आठ सीटों पर उपचुनाव होना है।

गुजरात के आनंद जिले में उस समय हड़कंप मच गया जब आग की ऊंची लपटे नजर आने लगी। पता चला कि वहां स्थित एक कैमिकल फैक्ट्री में आग लग गयी है।

कांग्रेस पार्टी के तमाम सदस्यों का पार्टी के प्रति रूझान लगातार कम होता दिखाई दे रहा है। ऐसे में कांग्रेस को एक बार फिर तगड़ा झटका लगा है। शनिवार को गुजरात में कांग्रेस के 5 पूर्व विधायक भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) में शामिल हो गए हैं।

गुजरात में पुलिसकर्मियों से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल, अनलॉक- 1 के चलते पुलिसकर्मियों को कोई अवकाश नहीं दिया जाएगा।

गुजरात में एक फैक्ट्री में भीषण आग लग गई है। आग लगने के बाद इलाके में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। यह आग अहमदाबाद के साणंद में जीआईडीसी फैक्ट्री में आग लगी है। मिली जानकारी के मुताबिक यह आग यूनीचेर नाम की कंपनी में लगी है।

वाघेला ने जनसंघ के साथ अपनी राजनीतिक यात्रा शुरू की थी। जब जनता पार्टी बनी तो भी वे उसके साथ थे। जनता पार्टी के टूटने के बाद वे भारतीय जनता पार्टी (BJP) में एक वरिष्ठ नेता की हैसियत से पहचाने जाते थे।

गुजरात के द्वारिका का है, जहां मोरारी बाबू की दर्शन के बाद कुछ भाजपा नेताओं से मुलाक़ात हुई और आपस में बातचीत होने लगी। इस दौरान बीजेपी नेता और पूर्व विधायक पबुभा माणेक मोरारी बापू पर किसी बात को लेकर नाराज हो गए और मारने के लिए दौड़ पड़े। मोरारी बापू भी जान बचा कर भागने लगे।

संकट के बीच भूकंप ने लोगों के दिलों में दहशत बना रखी है। देश में पिछले दो महीनों में लगातार कई बार भूकंप के झटकों को महसूस किया जा चुका है। इसी कड़ी में रविवार को गुजरात में भूकंप के झटकों को महसूस किया गया। धरती के थर्राने से लोग सहम गए और घरों से निकल कर भागने लगे।

जिन इकाइयों में सामाजिक दूरी बनाने के मानदंड का पालन नहीं किया जा रहा है, उनपर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है। एसएमसी ने कहा कि वह हीरे की इकाइयों की जांच करना जारी रखेगा कि वायरस के प्रसार को रोकने के लिए वहां सामाजिक दूरी बनाने जैसे मानदंडों का पालन और मास्क तथा सैनिटाइटर का उपयोग किया जा रहा है या नहीं।