gujarat

कोरोना वायरस ने सब पर बहुत ज्यादा असर किया है। इसने कई तरीके से सबको अपनी चपेट में लिया है। इससे बचने के लिए देशभर में लॉकडाउन है। इस बीच गुजरात में मजदूरी करने वाले राजस्थान के कुछ लोग वहां से पैदल ही चल दिए हैं। पढ़िए ये रिपोर्ट -

भारत में कोरोना संक्रमण के केस बढ़ते जा रहे हैं। रविवार को जनता कर्फ्यू के बीच अमरिंदर सरकार ने पंजाब को 31 मार्च तक लॉकडाउन कर दिया है।

कोरोना वायरस को लेकर दहशत का माहौल है, लेकिन केंद्र और राज्य सरकारें भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए सतर्क हैं। कोरोना वायरस को लेकर सफाई पर भी खासा ध्यान दिया जा रहा है।

कोरोना वायरस का असर अब देश के अलग-अलग राज्यों में देखने को मिल रहा है। अब तक सबसे अधिक मामले महाराष्ट्र में मिले हैं और इसका असर गुजरात में भी दिख रहा है।

राज्य के कांग्रेस के कई विधायक केंद्रीय और राज्य नेतृत्व की भूमिका से खुश नहीं हैं। असम में कांग्रेस विधायक दल के नेता देवव्रत सइकिया खुद प्रदेश नेतृत्व की भूमिका से खुश नहीं हैं।

राजसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका लगा है। गुजरात में कांग्रेस के एक और विधायक ने पार्टी छोड़ दी। इसके पहले चार विधायकों ने इस्तीफा दिया था।

राज्यसभा चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस को गुजरात में भाजपा द्वारा विधायकों की खरीद फरोख्त का डर सता रहा है। इस आशंका के बीच गुजरात के कांग्रेस विधायक जयपुर पहुंच गए हैं।

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तबाही मचा रखी है। इस बीच अब गुजरात के संतरामपुर के प्रतापपुरा इलाके में घोड़ों में ग्लेंडर नामक वायरस सामने आया है। यह वायरस इतना भयावह है कि ये सिर्फ हवा से फैलता है।

मध्य प्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया को तोड़ने के बाद भाजपा राजस्थान और गुजरात में भी कांग्रेस के अंदरूनी झगड़े का फायदा उठाने में जुट गई है। इन दोनों राज्यों में भाजपा ने ऐसी चाल चली है जिससे कांग्रेस की नींद उड़ गई है।