gujrat

गुजरात के कच्छ, भचाउ अंजार तहसील के इलाको में भूकंप के झटके महसूस किए गए। बता दें कि रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 4.3 दर्ज की गई। शाम को 7.01 बजे यह झटके महसूस किए गए।

देश में गुजरात में तूफान का खतरा बहुत तेजी से अपने कदम पसार रहा है। गुजरात के तटीय इलाके की तरफ से ये तूफान तेजी से बढ़ रहा है। इस अरब सागर से उठने वाले चक्रवाती तूफान का नाम महा रखा गया है।

जैमिन ने राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश से संपर्क कर रोहित कुमार सोलंकी उर्फ शेख अशफाक हुसैन को सूरत शहर की आईटी सेल का प्रचारक के पद पर बैठा दिया। इसके बाद सूरत शहर का आईटी सेल का प्रचार बनते ही शेख अशफाक हुसैन ने वॉट्सएप पर एक ग्रुप बनाया। 

देश में फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए है। रविवार को गुजरात में भूकंप के झटके महसूस किए गए। बता दें कि भूकंप के ये झटके गुजरात के बनासकांठा जिले के कुछ इलाकों में महसूस किए गए है। रिएक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.2 मापी गई है।

गांधी जी को लेकर परीक्षा में एक हैरान कर देने वाला सवाल पूछा गया। ये घटना है गुजरात की। यहां के एक स्कूल में 9वीं कक्षा के इंटर्नल एग्जाम में यह सवाल पूछा गया कि गांधीजी ने आत्महत्या कैसे की? ये प्रश्न सुनकर ही कुछ अजीब सा लग रहा है।

भारतीयों का काला धन स्विस बैंक से जुड़े होने की जानकारी मिलने के बाद से दुनिया के सबसे तेज प्लेटफॉर्म यानी सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रही है। इस पोस्ट में यह दावा भी किया जा रहा है कि भारत को स्विस बैंक से सिर्फ 31 लाख खातों के बारें में जानकारी प्राप्त हो पाई है।

रविवार से नवरात्र का शुभारंभ हो गया है। मां दुर्गा की भक्ति में पूरा देश लीन है। नवरात्र के आते ही डांडिया और गरबा की भी तैयारियां शुरू हो गई हैं। वहीं गुजरात में डांडिया और गरबा का बहुत क्रेज है। गुजरात में महिलाएं गरबा के लिए बहुत एक्साईटेड है।

एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। ये मामला गुजरात के छोटा उदयपुर का है। उदयपुर में जाकिर मेमन नाम का ये आदमी सड़कों पर बिना हेलमेट के घूमता है और जब पुलिसवाले इसका चालान करने जाते हैं तो इस आदमी की समस्या को सुनकर वो बहुत भ्रमित हो जाते हैं। 

भारत में 4 आईएसआई सदस्यों के घुसने की खबर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ने दी है। खुफिया एजेंसी से गुजरात पर आंतकी हमले से सम्बन्धित जानकारी आने के बाद अब गुजरात के साथ राजस्थान और मध्यप्रदेश की सीमाओं को भी सील कर दिया गया है।

ज्यादातर बच्चे गरीबी के चलते पढ़ नहीं पाते। पैसों की तंगी के चलते कुछ बच्चे बचपन में ही अपनी पढ़ाई छोड़ देते है। लेकिन सूरत में दर्जनों अप्रशिक्षित छात्रों को शहर के प्रमुख रवि छावछरिया द्वारा एक पहल की गई है जिसमें जो चार्टर्ड एकाउंटेंट बनना चाहता है उसके सपने को पूरा करने का अवसर मिलेगा।