Gurdaspur punjab

लेकिन इससे पहले कि मारिया को हताशा और निराशा होती  उसने मलकीयत सिंह के इस नशे  को छुड़ाने की ठान ली। पति का नशा छोड़ने के लिए मारिया अपने ही अंदाज में प्रेरित कर रही हैं। यहां तक कि मरिया नशामुक्ति केंद्र में भी अपने पति के साथ ही रह रही।