Harsh Vardhan

डॉ. हर्षवर्धन ने सरकार के कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनकी तरफ से पिछले कुछ महीनों में कोरोना महामारी से लड़ने के लिए बहुत साहसिक कदम उठाए गए हैं।

भारत के अंदर कोरोना का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। रोज बड़ी संख्या में नये केस सामने आ रहे हैं। वहीं इससे होने वाली मौत का आंकड़ा भी लगातार बढ़ता ही जा रहा है। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जो भी जरूरी कदम हैं। केंद्र और राज्य की सरकार मिलकर उसे बराबर उठाने का काम कर रही हैं।

भारत के स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने कहा है कि जुलाई 2021 तक कोरोना वैक्सीन की 40 से 50 करोड़ खुराक पाने की योजना पर काम चल रहा है। चूंकि हर व्यक्ति को दो खुराक देने की जरूरत होगी सो 20 से 25 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा सकेगी।

बीते रविवार को देश में कोरोना वायरस के लगभग पांच हजार नए मामले सामने आए। लेकिन केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने आज कहा कि पिछले तीन दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले  में कमी आई है। ये मामेले दोगुने होने का समय 13.6 दिन हो गया, जबकि पिछले 14 दिन में यह दर 11.5 दिन थी।

देश में कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है। अब इस बीच कोरोना वायरस की जांच को लेकर भारत ने बड़ी सफलता हासिल कर ली है। भारत ने कोविड-19 के एंटीबॉडी का पता लगाने वाली टेस्टिंग किट को तैयार कर लिया है।

 देश में कोरोनावायरस का संकट चरम पर है।यहां के 718 जिले हैं केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि 718 जिलों में से 400 जिले कोरोना मुक्त हैं जहां अभी तक कोरोना पहुंचा नहीं है। सरकार 400 जिलों को कोरोना से दूर रखने की दिशा में प्रयास कर रही है स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कोरोना वायरस संकट

स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन के मुताबिक मानसून सत्र में पारित राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग का गठन तय समय से पहले करने की कोशिश की जा रही है, इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगले सत्र यानी 2020-21 से वह देश में मेडिकल शिक्षा की निगरानी और नियमन

कोलकाता : केंद्रीय मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता हर्षवर्धन ने शुक्रवार को कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी राजनीतिक रूप से अजेय हैं और ऐसा कोई नहीं है जो उन्हें अगले वर्ष होने वाले आम चुनाव में चुनौती पेश कर सके। वर्धन ने कहा, “ऐसा कोई नहीं है जो नरेंद्र मोदी को हरा सके..मुझे नहीं लगता …

बॉन (जर्मनी): भारत ने कहा है कि जलवायु परिवर्तन आज सारे विश्व के समक्ष एक बड़ा मुद्दा है। भारत इसकी चुनौतियों को समझता है और वह अपनी अहम भूमिका अदा करने के लिए प्रतिबद्ध है। पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि यह कोई राजनीतिक मसला नहीं है बल्कि अंतरात्मा को झिंझोड़ने वाला मामला है। यह …

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन ने मंगलवार को कहा कि सरकार का 'थोड़ा भी इरादा' किसी के खाने की आदतों या पशुवध व्यापार पर प्रतिकूल असर डालने का नहीं है।