heavy rains

आईएमडी के मुताबिक, 12 सितंबर से अगले तीन-चार दिनों तक कई राज्‍यों में बहुत भारी बारिश हो सकती है। बारिश के बाद लोगों को गर्मी व उमस से राहत मिलेगी।

राजस्थान में बारिश पहले ही अपना रौद्ररूप दिखा चुकी है, लेकिन अभी भी झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। राज्य के लगभग सभी हिस्सों में मानसून एक्टिव है। ऐसे में जानकारी देते हुए मौसम विभाग ने यहां के अधिकतर हिस्सों में बारिश होने की संभावना जाहिर की है।

पहाड़ी इलाकों में लगातार बारिश होने की वजह से लोगों को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में भारी बारिश से रामबन में लगभग आधा दर्जन जगहों पर पस्सियां गिरने की वजह राष्ट्रीय राजमार्ग पूरी तरह से बंद हो गया है।

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश का सिलसिला रूकने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसे में मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए प्रदेश में 26 अगस्त मौसम के खराब रहने का पूर्वानुमान जारी किया है।

उत्तराखंड में बरस रही आफत की बारिश से मची तबाही का सिलसिला खत्म ही नहीं हो रहा है। जिसके चलते मौसम विभाग ने पिथौरागढ़, बागेश्वर, चमोली और नैनीताल जिलों में भारी बारिश के बन रहे हालातों को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया है।

गुलाबी नगरी जयपुर में कोरोना महामारी के साथ ही भारी बारिश भी बराबरी से कहर ढा रही है। ऐसे में मौसम की जानकारी देते हुए मौसम विभाग ने राजस्थान के तमाम जिलों में भयंकर बारिश का रेड अलर्ट जारी किया है।

राजधानी जयपुर में विधानसभा सत्र भी भारी बारिश की वजह से प्रभावित होता दिखाई दे रहा है। असल में अशोक गहलोत खेमे के विधायक फेयरमांट होटल से दो बसों में सवार होकर विधानसभा सत्र के लिए निकले थे।

हिमाचल प्रदेश कुदरत की भयंकर मार झेल रहा है। हिमाचल के मंडी में भारी बारिश यहां के लोगों के  लिए मौत की तबाही बनकर बरस रही है। जगह-जगह पहाड़ी चट्टानें गिरने की वजह से लोगों में डर और खौफ का माहौल बना हुआ है।