hindi news

मेजर रामास्वामी परमेश्वरन भी उन सैनिकों में शामिल हैं जिन्होंने विदेशी धरती पर शांति स्थापित करने के लिए कुर्बानी दी है। मेजर रामास्वामी परमेस्वरन वीरता की अद्भुत मिसाल कायम करते हुए आज ही के दिन यानी 25 नवंबर, 1987 को श्रीलंका में शहीद हो गए थे।

मौसम विभाग के मुताबिक, बुधवार को चेन्नई से 50 किलोमीटर दूर तमिलनाडु के मामल्लापुरम और पुडुचेरी के कराइकल तट से तूफान बुधवार देर शाम टकरा सकता है। इस दौरान 100 से 110 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के कोषाध्यक्ष और आठ बार के सांसद अहमद पटेल के निधन को कांग्रेस के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। 71 वर्षीय अहमद पटेल को गांधी परिवार का काफी करीबी भी माना जाता था।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश में वॉर मेमोरियल, पुलिस मेमोरियल समेत कई ऐसी योजनाएं हैं जो बरसों से अटकी पड़ी थीं, लेकिन हमारी सरकार ने इन सभी अटकी योजनाओं को पूरा किया है।

दुनियाभर में कोरोना के कहर के बीच अमेरिका से एक खुशखबरी सामने आई है। मिली जानकारी के मुताबिक, अमेरिका में जल्द ही कोरोना वायरस का टीकाकरण कार्यक्रम शुरू किया जा सकता है।

वैलरी ने इससे पहले दावा किया था कि पुतिन को पार्किंसन्स डिजीज है। उन्होंने अब सूत्रों के हवाले से कहा है कि पुतिन का स्वास्थ्य खराब है। उन्होंने शुक्रवार को एक मीडियो से कहा कि पुतिन दो बीमारियों से जूझ रहे हैं। उन्हें साइको-न्यूरोलॉजिकल परेशानी है और कैंसर भी है।

फाइजर ने कहा है कि प्राथमिक विश्लेषण से पता चलता है कि वैक्सीन की पहली खुराक के 28 दिनों के अंदर यह अपना प्रभाव दिखाने लगती है। ट्रायल के दौरान कोविड-19 के 170 कन्फर्म मामलों का मूल्यांकन किया गया।

कैलाश नारायण सारंग जी के साथ मुझे पार्टी में कई बार साथ काम करने का सौभाग्य मिला था। एक बार 1998 के आम चुनाव के दौरान हम दोनों ही केन्द्रीय कार्यालय, दिल्ली के कंट्रोल रूम को देख रहे थे। उस समय पीयूष गोयल जी भी हमलोगों के साथ थे।

इराकी सेना ने बताया कि एक रॉकेट देश के नेशनल सिक्‍यॉरिटी सर्विस के पास गिरा जो अमेरिकी दूतावास से सिर्फ 600 मीटर की दूरी पर स्थित है। इराक की सेना ने बताया इसके अलावा कुछ रॉकेट को अमेरिका के सी-रैम एयर डिफेंस सिस्‍टम ने हवा में ही ढेर कर दिए।

केंद्र सरकार की तरफ से कर्मचारियों को मिलने वाले जोखिम भत्ते में भारी बढ़ोतरी की गई है। जोखिम भत्ते में 90 रुपये प्रति महीने से लेकर 900 रुपये तक की बढ़ोत्तरी हुई है।