HJS

रजिस्ट्रार जनरल मयंक कुमार जैन की ओर से जारी सूची के अनुसार गत 26 से 28 अप्रैल तक हुई इस परीक्षा में 117 सीधे तौर पर सफल और 28 अभ्यर्थी विभिन्न न्यायिक आदेशों के आधार पर प्राविजनली सफल घोषित किए गए हैं।

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने उ.प्र. उच्च न्यायिक सेवा नियमावली के नियम 5 बी को वैध करार दिया है। इस नियम के तहत न्यायिक अधिकारियों के लिए एच.जे.एस.परीक्षा में बैठने की पांच वर्ष की सेवा