hospital

42 ट्रॉमा सेंटर बिना फार्मासिस्ट के ही संचालित किए जा रहे हैं। यही नहीं 200 से लेकर 500 बेड तक के अस्पतालों में फार्मासिस्ट की तैनाती का मानक ही तय नहीं किया गया है। राजभवन की 24 घंटे की डिस्पेंसरी में भी तीन की जगह सिर्फ एक फार्मासिस्ट की तैनाती की गई है।

उत्तर प्रदेश के नवनियुक्त बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के साथ बड़ा हादसा हो गया है। गाड़ी से उतरते वक्त वह चोटिल हो गए। दरअसल वे मुजफ्फरनगर पहुंचे थे, जहां भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के कार्यकर्ता उनका स्वागत कर रहे थे।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 10 दिन पहले घायल एक व्यक्ति का अस्पताल में इलाज चल रहा था। सोमवार को डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घर पर जनाजे की तैयारियां होने लगीं, लेकिन दफनाए जाने से ठीक पहले वह जिंदा हो उठा।

सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह इन दिनों पूर्वांचल के दौरे पर हैं। सिद्धार्थनाथ सिंह शनिवार को वाराणसी पहुंचे। इस दौरान उन्होंने मंडलीय चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में अवैध वसूली का एक नया वीडियो वायरल हो रहा है। दरअसल गोरखपुर के जिला महिला अस्पताल में अवैध वसूली कर बच्चों को निमोनिया का टीका लगाया जा रहा है। जबकि इसे टीके की अस्पताल में शासन द्वारा सप्लाई नहीं है। मामले से जुड़ा एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के कल्याणपुर थानाक्षेत्र में एक सरकारी अस्पताल के बाहर युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच की तो मृतक की जेब से निकले निजी अस्पताल का पर्चा व हाथ में विगो लगा मिला।

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में एक अस्पताल से 12 ड्रम मिट्टी के तेल बरामद किए हैं जिनमें 24 सौ लीटर अवैध मिट्टी का तेल भरा हुआ था। मिट्टी के तेल अस्पताल काला बाजारी के लिए लाया गया था। फिलहाल पुलिस ने भारी मात्रा में मिट्टी के तेल को बरामद कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को बुधवार को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। उन्हें सोमवार रात करीब सवा आठ बजे गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

केंद्र सरकार से लेकर प्रदेश सरकार तक आम जनमानस को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए नित नए अस्पताल और मेडिकल कालेज खोल रही है। उसी कड़ी में बहराइच में भी 100 बेड का नया महिला अस्पताल बन कर तैयार हो गया है।

एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के आंध्र प्रदेश में सर्वेक्षण 2018 से पता चलता है कि बेहतर रोजगार के अवसर (46.14%), पेयजल (45.25%) और बेहतर अस्पताल / प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (31.40%) समग्र आंध्र प्रदेश में मतदाताओं की शीर्ष तीन प्राथमिकताएं हैं।