hospital

देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच कई बार व्यवस्था भी चरमरा जा रही है। ऐसी ही एक खबर मुबंई से है जहां सिस्टम की लापरवाही साफ झलक रही है। कोरोना पॉजिटिव पाए गए एक शख्स को बार-बार मदद मांगने पर एंबुलेंस नहीं मिली।आखिरकार उसे 3 किलोमीटर पैदल चलकर अस्पताल जाना पड़ा।

महाराष्ट्र में तेजी से बढ़ते कोरोने वायरस के मामलों के बीच नवी मुंबई के अस्पताल से एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। दरअसल, यहां के एक अस्पताल से एक युवक का शव ही गायब हो गया।

जनपद शामली में एक तेज रफ्तार गाड़ी का कहर देखने को मिला है जिसने कई पुलिसकर्मियों को टक्कर मार कर उन्हें घायल कर दिया। घायल पुलिसकर्मियों को उपचार के लिए शामली के जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

बता दें कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में ही अकेले सिर्फ 14500 से अधिक लोग कोरोना से संक्रमित हैं। और सिर्फ मुंबई में अब तक 528 लोगों की मौत हो चुकी है।

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की शनिवार को अचानक तबियत बिगड़ने की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने के बाद रायपुर के श्री नारायण हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

चॉकलेटी एक्टर शिविन नारंग को अस्पताल में गंभीर रुप से कराया गया है भर्ती। खबरों के मुताबिक, रविवार शाम को उन्हें मुंबई के अंधेरी के अस्पताल में एडमिट किया, उनके हाथ में चोट लगी है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन के सफल क्रियान्वयन पर बल दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि अब हर जिले में कोविड तथा नान-कोविड अस्पताल चिन्हित किये जाए।

खबर बिहार की राजधानी पटना से है, जहां पर PMCH के इमरजेंसी वार्ड में दोपहर भीषण आग लग गई। यह घटना आज यानि मंगलवार की है।

कोरोना वायरस की मार प्राइवेट अस्पतालों पर पड़ी है। लॉकडाउन की वजह से इन अस्पतालों में मरीजों का आना कम हो गया है। करीब 80 फीसदी तक बेड खाली पड़े हैं। ओपीडी, सर्जरी और अन्य चिकित्सकीय सेवाएं ठप है।