IAS

आईएएस अफसर सत्येन्द्र कुमार सिंह ने उत्तर प्रदेश सूचना आयोग द्वारा एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर को तीन आईएएस अफसरों के घर आयकर विभाग द्वारा छापे मारे जाने से सम्बंधित सूचना देने का कड़ा विरोध किया है।

हरप्रीत ने यूपीएससी की परीक्षा पांचवें अटेंप्ट में पास कर ली। हालांकि, उन्होंने पहली बार में उन्हें प्रीलिम्स पास कर लिया था लेकिन किस्मत ने मेंस में उनका साथ नहीं दिया।

उत्तर प्रदेश में अधिकरियों के तबादले का दौर जारी है। अब योगी आदित्यनाथ सरकार ने शुक्रवार रात 26 आईएएस अधिकारियों के तबादले कर दिए हैं। रितु माहेश्वरी को मुख्य कार्यपालक अधिकारी नोएडा बनाया गया है, तो वहीं माला श्रीवास्तव को बस्ती का डीएम बनाया गया है।

गौरव दयाल विशेष सचिव एवं स्टाफ ऑफिसर मुख्य सचिव बनी प्रभारी आयुक्त एवं निदेशक उद्योग प्रबंध निदेशक उत्तर प्रदेश राज्य वस्त्र निगम लिमिटेड स्टेट शिपिंग कारपोरेशन लिमिटेड तथा आयुक्त एवं निदेशक हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग कानपुर

उत्तर प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार बनी है, तबसे कई बड़े प्रशासनिक फेरबल किए गए है। देर रात गुरुवार को भी उत्तर प्रदेश शासन ने बड़ा प्रशासनिक फेर बदल करते हुए 15 आईएएस अफसरों के तबादले किए गये हैं।

उत्तराखंड सरकार ने प्रशासनिक तौर पर बड़ा फेरबदल किया है। प्रदेश सरकार ने 25 आईएएस और 9 पीसीएस अधिकारियों के ट्रांसफर कर दिए हैं।देहरादून, टिहरी, हरिद्वार, चंपावत, नैनीताल के ज़िलाधिकारियों को बदला गया है।

आईएएस का इंटरव्यू या किसी बड़ी प्राइवेट कंपनी मे जॉब लेने के लिए इतने अजीब से सवाल किये जाते है जिससे सभी लोगो का दिमाग खराब हो जाता है और उलझन मे भी पड़ जाते है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज वो काम किया जो उन्होंने पिछले ढाई साल के कार्यकाल में नहीं किया। अधिकारियों के पेंच कसे उनके मोबाइल बाहर रखवा दिए।

लोकसभा चुनाव के नतीजे के बाद उत्तर प्रदेश में बड़े स्तर पर प्रशासनिक फेरबदल की तैयारी है। कृषि उत्पादन आयुक्त, चेयरमैन पिकप, चकबंदी आयुक्त के पद खाली हैं तो बेसिक शिक्षा, आबकारी, भूतत्व एवं खनिकर्म जैसे कई विभागों के मुखिया का पद अतिरिक्त प्रभार के भरोसे चल रहा है।

लखनऊ। प्रोन्नत आईएएस अधिकारियों और डायरेक्ट आईएएस अधिकारियों के बीच चली आ रही कई वर्षो की कडुवाहट मंगलवार को खुलकर सामने आ गयी जब पीसीएस से आईएएस बने अधिकारियों ने अपना एक नया संगठन बना लिया इसका नाम प्रोन्नत आईएएस मंच रखा गया है।