india

अब भारत मलेशिया की बजाय अर्जेंटीना, इंडोनेशिया और यूक्रेन जैसे देशों से तेल मंगाने की तैयारी में है। इसके अलावा भारत ने तुर्की के खिलाफ भी प्रतिबंध लगाने की योजना बनाई है।

देश में भूकंप के डर से सहमे लोग सदमें से बाहर आ ही नही पा रहे कि तुरंत भूकंप का अगला झटका आ जा रहा है। भूकंप के झटके कम होने का नाम ही नही ले रहें हैं। भारत के राजस्थान में अब भूकंप ने अपना कहर बरपाया है। राजस्थान के बीकानेर में 4.5 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। 

पीएमसी बैंक घोटले के मुख्य आरोपी और एचडीआईएल के मालिक सारंग व राकेश वधावन की सैकड़ो एकड़ जमीन ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) जब्त करने जा रहा है। बता दें कि बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी सारंग और राकेश वधावन के पास 2100 एकड़ की जमीन है।

चार विकेट लेते ही रविचंद्रन अश्विन ने अपने 50 विकेट दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पूरे कर लिए हैं। वहीं, निचले क्रम के बल्लेबाज केशव महाराज ने 132 गेंदों पर 12 चौकों की मदद से दक्षिण अफ्रीका की ओर से सर्वाधिक 72 रन बनाए।

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच अनौपचारिक शिखर वार्ता हुई। सबसे बड़ी बात यह रही है कि इस दौरान कश्मीर के मुद्दे पर दोनों देशों के शीर्ष नेताओं के बीच एक बार भी चर्चा नहीं हुई। हालांकि आतंक पर दोनों नेताओं ने विस्तार से चर्चा की।

दिल्ली के ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज या एम्स ने न सिर्फ मेडिकल विशेज्ञता में बल्कि साफ-सफाई के मामले में भी नाम कमाया है। दिल्ली एम्स को वर्ष 2018-19 के 'कायाकल्प' पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

क्या आपने कभी सुना है कि लोगों के बाल काटने वाला कहीं का अरबपति भी हो सकता है। लेकिन हम आपको बताने जा रहें है एक ऐसे इंसान के बारे में जो महंगी-महंगी कारों जैसे मर्सिडीज, बीएमडब्ल्यू और ऑडी जैसी का शौक रखता है।

बैंकों से ताल्लुक रखने वालों के लिए आवश्यक खबर है। अक्टूबर माह के तीसरे सप्ताह में भी एक दिन ज्यादा बैंक बंद रहेंगे। फिलहाल आरबीआई (रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया) की तरफ से जारी लिस्ट के अनुसार, 18 अक्टूबर को केवल सिक्किम में ही अवकाश है।

बिजली उपभोक्ताओं के लिए सरकार ये सुविधा दे रही है कि वे अपनी मन-मुताबिक किसी कंपनी से बिजली ले सकते हैं। उपभोक्ता अपनी बिजली वितरण कंपनी को कभी भी बदल सकते हैं। इस नए प्लान के तहत केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा है कि वे 1 साल के भीतर ही कृषि के फीडर को अलग कर लें। 

कल मैंने लिखा था कि चीन और भारत की क्या-क्या मजबूरियां हैं कि जिनके चलते उन्हें आपसी संबंधों को आगे बढ़ाना पड़ रहा है। आज महाबलिपुरम में जो कुछ हो रहा है, वह जो ह्यूस्टन में हुआ है, उससे किसी तरह कम नहीं है।