indian army

जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में शुक्रवार को सुरक्षाबालों और आतंकवादिओं के बीच मुठभेड़ हो गई।इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के 2 आतंकवादियों को मार गिराया।

करीब 10 मिनट तक दोनों तरफ से फायरिंग होती रही। इसके बाद आतंकी वहां से भाग निकले। जाने से पहले आतंकी घायल सीआरपीएफ कर्मी की राइफल भी अपने साथ ले गए।

लद्दाख की सीमा लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल(LOC) पर भारतीय सेना के जबरदस्त पराक्रम और बुलंद हौसलों को देखने मात्र से ही चीन की हालात पस्त हो गई है। चीनी सैनिक इन दिनों बहुत डरे हुए हैं।

चीन ने साल 2017 के बाद कुल 13 मिलिट्री पॉजिशन का निर्माण शुरू कर दिया था। जिसमें तीन एयर बेस, पांच डिफेंस पॉजिशन और पांच हेलिपोर्ट का निर्माण शामिल है।

चीनी सेना के जवानों का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि इन सैनिकों की भारत सीमा पर पोस्टिंग की गई है जिसके कारण यह रो रहे हैं।

पूर्वी लद्दाख में भारत के साथ जारी तनाव के बीच चीन अपने कब्जे वाले अक्‍साई च‍िन इलाके में किलर म‍िसाइलें तैनात कर रहा है। वार्ता बेनतीजा रहने के बाद चीनी सेना अब बड़े पैमाने में घातक हथियार तैनात करने में जुट गई है।

कल से बड़गाम में शुरू हुई सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ अभी तक जारी है। एक आतंकी को मार कर सेना ने बड़ी कामयाबी भी हासिल कर ली है।

जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में आतंकियों ने एक बार फिर से नापाक साजिश रचने की कोशिश की है। लाइन ऑफ कंट्रोल(LOC) पर सोमवार यानी आज पाकिस्तान की तरफ से ताबड़तोड़ गोलाबारी की गई। जिसका भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया है।

ड्रैगन सीमा पर अपनी धूर्त हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में चीन के किसी भी साजिश का जवाब देने के लिए वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर हर तरह की मजबूती बेहद जरूरी है।

मात्र 20 दिन में भारत के जवानों ने एक -एक कर लद्दाख की 6 नई पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया। ये सभी पहाड़ियां लद्दाख में काफी अहम हैं।