indian army

सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने जानकारी दी कि जम्मू-कश्मीर में बर्फ बढ़ने से पहले आतंकी भारत में घुसपैठ करना चाहते हैं। ऐसा लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं को बाधित करने के लिए किया जा रहा है। 

पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) में भारत और चीन के बीच गतिरोध जारी है। ऐसा कहा जा रहा था कि सहमति बनने के बाद दोनों देशों की सेनाएं पीछे हटने वाली हैं, लेकिन अब तक ऐसा नहीं हुआ।

जानकारी के मुताबिक, ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल डीआरडीओ द्वारा बनाया गया है, जिसे भारतीय सेना द्वारा परीक्षण किया गया है। पहले इस मिलाइल की रेंज करीब 300 किमी था, जिसे बढ़ा कर 400 से अधिक कर दिया गया है। डीआरडीओ ने ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल के अलावा कई मिसाइलों का सफल परीक्षण किया है

भारतीय सेना के जवानों ने सतर्कता दिखाते हुए पाकिस्तानी सेना की गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया और घुसपैठ की कोशिश को नाकाम कर दिया। भारतीय सेना की गोलाबारी के दौरान पाकिस्तानी सेना को भारी नुकसान हुआ है।

Nagrota Encounter: Indian Army ने Intelligence से जानकारी मिलने के बाद 4 Terrorist को मार गिराया

भारतीय सेनाओं ने आज सुबह जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकियों को मार गिराया था। सैनिकों द्वारा मिली कामयाबी के बाद भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे का बयान सामने आया हैं। सेना प्रमुख ने पाकिस्तान और उसके आतंकवादियों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि जो भी आतंकी एलओसी (LoC) को पार करने की कोशिश करेगा, वह जिंदा बच के वापस नहीं जा पाएंगा।

भारतीय सेना की ओर से एक बार फिर पीओके में जोरदार कार्रवाई की गई है। भारतीय सेना के जवानों ने दिलेरी का परिचय देते हुए पीओके में आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया है।

जम्मूू-कश्मीर के पुंछ जिले में अचानक से हुए एक विस्फोट में भारतीय सेना का एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया है। जिसके बाद उसे फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिले में लोगों को अलर्ट रहने को कहा गया है।

जम्‍मू-कश्‍मीर में भारतीय सेना के जवाबी कार्रवाई से बौखलाए पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री ने भारत के खिलाफ जहर उगला है। पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारत पर बलूचिस्‍तान में आतंकवाद को फैलाने का बड़ा आरोप लगाया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बार भी सीमा पर जवानों के साथ दिवाली मना रहे हैं। पीएम मोदी दिवाली मनाने के लिए राजस्थान के जैसलमेर सीमा पर पहुंच गए हैं। प्रधानमंत्री के साथ सीडीएस बिपिन रावत, आर्मी चीफ एमएम नरवणे और बीएसएफ के डीजी राकेश अस्थाना मौजूद हैं।