Inquilab

पैतृक जिले आजमगढ़ में कैफी साहब के जन्म शताब्दी वर्ष पर जगह-जगह विविध आयोजन किया जा रहा है और हर तरफ उनके गीत गुनगुनाये जा रहे हैं। अपने पैतृक जिले में कैफी साहब को यूं ही नहीं याद किया जा रहा है। सच तो यह है कि कैफी साहब को अपनी माटी से गहरा लगाव था।