inquiry order

बलरामपुर: जिले के रेहरा बाजार क्षेत्र में एक मासूम के साथ दरिंदगी का सनसनीखेज घटना सामने आई है। यहां एक दरिंदे ने हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए छ: साल की मासूम को बहलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। घटना के बाद पीड़ित मासूम ने अपने परिजनों को आप बीती सुनाई, तो परिजनों ने घटना …

पहले भी दरोगा ने उसे दिनभर कोतवाली में बैठाए रखा और मुकदमा वापस लेने के लिए दबाव बनाया। आरोप है कि दरोगा ने उसे धमकी दी कि तुझे ऐसा कर दूंगा कि तू मुंह दिखाने लायक नहीं रहेगी।

वह एक दलित युवक से शादी करना चाहती है, जो उसके घर वालों को मंजूर नहीं है। परिजनों को उसके गर्भवती होने का पता चला तो उन्होंने उसे जहर का इंजेक्शन दे दिया। लेकिन छात्रा बच गई और घर से भाग निकली। बीएससी की यह छात्रा अब जान बचाने के लिए दर दर भटक रही है।

शौच के लिए गई गर्भवती के साथ गांव के ही दबंगों ने गैंग रेप किया। पीड़ित परिवार ने थाने में दबंगों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट लिखानी चाही तो पुलिस ने दुतकार कर भगा दिया। थाने से लौटते समय दबंगों ने पीड़िता और परिवार को इतना पीटा कि गर्भवती को गंभीर हालत में भर्ती कराना पड़ा, जहां उसका गर्भपात हो गया। दबाव का आरोप

पुलिस ने उसे अर्द्धनग्न करके एक हॉस्पिटल के बरामदे में पिलर से बांध दिया। इसके बाद पुलिस उसे बेरहमी से पीटती रही और वह आजाद होने के लिए चीखता छटपटाता रहा। युवक को हथकड़ी लगा कर करीब घंटे भर तक बुरी तरह मारा गया।