iran

अमेरिका और ईरान में तनाव के बीच तेहरान ने अपने एक अधिकारी दर्दनाक सजा दी है। ईरान ने अमेरिकी जासूसी एजेंसी सीआईए के लिए जासूसी करने के दोषी 'रक्षा मंत्रालय के ठेकेदार' को फांसी दे दी।

अमेरिका और ईरान के बीच बढ़ते तनाव और युद्ध की आशंका के बीच भारत ने अपने विमानों को ईरान के एयरस्पेस से नहीं गुजारने का फैसला लिया है। नागर विमानन महानिदेशालय (जीडीसीए) ने फैसला किया है कि भारतीय विमान ईरान के एयरस्पेस से गुजरने से परहेज करेंगे।

ईरान और अमेरिका के बीच युद्ध की आशंका को बल मिला रहा है। ईरान ने शनिवार को अमेरिका को चेतावनी दी कि इस्लामी गणतंत्र के खिलाफ किसी भी कार्रवाई से क्षेत्र में अमेरिकी हितों को बड़ा नुकसान पहुंचेगा और उसे इसके लिए गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।

अमेरिका और ईरान में सैन्य टकराव के बढ़ते अंदेशे के बीच भारत ने हॉर्मूज जलडमरू मध्य से होकर गुजरने वाले अपने तेल टैंकरों की सुरक्षा बढ़ाने का निर्णय लिया है। ओमान की खाड़ी में दो भारतीय युद्धपोतों की तैनाती के बाद नौसेना अब तेल टैंकरों पर कुछ अधिकारियों को भेजेगी।

ईरान और अमेरिका के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। अमेरिका और ईरान दोनों के एक दूसरे को युद्ध की चेतावनी दे रहे हैं। इस बीच भारत ने होर्मुज जलडमरू मध्य से जुड़े घटनाक्रमों के कारण तेल की कीमतों में बढ़ोतरी पर शुक्रवार को चिंता जाहिर की।

ईरान द्वारा अमेरिकी सेना का एक ड्रोन मार गिराने और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्वीट के बाद दोनों देशों के बीच युद्ध की आशंका प्रबल हो गई है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि ड्रोन गिराने की खबर आने के तुरंत बाद कच्चे तेल की कीमत तीन फीसदी से अधिक उछलकर प्रति बैरल 64 डॉलर पर पहुंच गई।

अमेरिका और ईरान में तनाव के बीच अमेरिका के एक शक्तिशाली ड्रोन को मार गिराया गया है। अमेरिका ने कहा है कि ईरान ने उसके 18 करोड़ डॉलर के शक्तिशाली जासूसी ड्रोन को गिरा दिया है। अमेरिका के बयान के बाद ईरान ने ऐलान किया कि वह जंग के लिए पूरी तरह से तैयार है।

ईरान के सरकारी टेलीविजन की खबर में कहा गया है कि ईरानी रिवोल्यूशनरी गार्ड ने बृहस्पतिवार को अपने देश के हवाई क्षेत्र का उल्लंघन करने वाले एक अमेरिकी “जासूसी ड्रोन” को अपने इलाके में मार गिराने का दावा किया।

ओमान की खाड़ी में गुरुवार को दो तेल टैंकरों पर संदिग्ध हमला हुआ है जिसके बाद अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ गया है। इस हमले के लिए अमेरिका ने ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। ईरान ने अमेरिका के इस आरोप को खारिज कर किया है।

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनी ने गुरुवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से बातचीत की संभावना को सिरे से खारिज कर दिया जबकि अमेरिका और इस्लामी गणराज्य में तनाव को दूर करने के लिये जापान कोशिशों में लगा हुआ है।