jammu and kashmir

जम्मू-कश्मीर से आज एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जानकारी के मुताबिक़ जम्मू-कश्मीर में विधान परिषद इसी महीने की 31 अक्टूबर को भंग होगी। इसके मद्देनजर विधान परिषद से जुड़े सभी सचिव से लेकर कर्मचारियों तक को 22 अक्टूबर तक जनरल एडमिनिस्ट्रेशन विभाग(जीएडी) में रिपोर्ट करने के लिए कहा गया है।

बुधवार को जम्मू-कश्मीर के बिजबेहारा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो गई। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई करते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया।

घाटी से आर्टिकल 370 हटाये जाने से पाकिस्तान अभी तक बौखलाया हुआ है। ऐसे में वह लगातार भारत को परेशान करने का प्लान बना तो रहा है लेकिन उसकी नापाक हरकतें पूरी नहीं हो पा रही हैं।

आलम ये हैं कि खुद पाक पीएम इमरान खान इंडिया को परमाणु और आतंकी हमले की धमकी दे रहे हैं। यही नहीं, पाकिस्तान लगातार आतंकियों को ट्रेनिंग दे रहा है और उनकी घुसपैठ करने में उनकी मदद भी कर रहा है।

पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने की वजह से काफी तिलमिलाया हुआ है। ऐसे में वह भरसक प्रयास कर रहा है कि भारत को कैसे परेशान किया जाए।

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने की वजह से पड़ोसी मुल्क काफी बौखलाया हुआ है। इसकी वजह से वह भारत को लगातार परेशान करने की कोशिश कर रहा है।

राजधानी पेरिस में भारतीय मिशन ने फ्रांस के विदेश मंत्रालय को डिमार्च जारी किया। इसके बाद पीओके के राष्ट्रपति को कार्यक्रम करने से रोक दिया गया।

नेशनल कांफ्रेंस के प्रवक्ता डॉ. समीर कौल ने राज्य में इंटरनेट और फोन सेवा बंद होने की वजह से स्वास्थ्य सेवाओं पर पड़ने वाले मुद्दे को कोर्ट के समक्ष उठाया था, जिसे लेकर सुप्रीम कोर्ट की ओर से केंद्र को इस तरह का निर्देश जारी किया गया है।

आशंका है कि पाकिस्तान आर्मी या फिर आतंकियों का इस नापाक हरकत में हाथ हो सकता है। फिलहाल सर्च आपरेशन जारी है।

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के जम्मू-कश्मीर दौरे पर तंज कसा है। महबूबा ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि पिछली बार मेन्यू में बिरयानी था, क्या इस बार हलीम होगा?