jammu and kashmir

भूकंप के झटकों से धरती थर्रा उठी है। बार-बार आ रहे झटकों ने दुनियाभर के वैज्ञानिकों को हैरान-परेशान करके रख दिया है। ऐसे में अब लद्दाख और जम्मू-कश्मीर दोनों जगहों पर भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए है।

जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी ने हुर्रियत कॉन्फ्रेंस से इस्तीफे दे दिया है। उन्होंने खुद इस बात की घोषणा की है। उन्होंने एक ऑडियो संदेश में हुर्रियत कॉन्फ्रेंस से इस्तीफे देने का एलान किया है।

प्रवासी कश्मीरी पंडितों ने गैर-निवासियों को जम्मू-कश्मीर का डोमिसाइल सर्टिफिकेट देने से पहले अपनी मातृभूमि पर वापसी कराने और फिर से घाटी में बसाए जाने की मांग की है। प्रवासी कश्मीरी पंडितों के एक संगठन ने रविवार को वापसी, पुनर्वास और समाधान की मांग की है।

जम्मू-कश्मीर में बीते कई महीनों से आतंकियों की घुसपैठ काफी ज्यादा हो गई है। आए दिन सीमा पर आतंकियों द्वारा सीज फायर का उल्लंघन किया जा रहा है। इधर पूर्वी लद्दाख में सीमा पर हुई खूनी झड़प की वजह से तनातनी लगातार बढ़ती ही जा रही है।

देश में कोरोना महामारी का संकट उफान पर है, उस पर हर रोज आ रहे किसी न किसी राज्य में भूकंप आ रहे हैं। आज शनिवार को जम्मू-कश्मीर में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं।

जम्मू-कश्मीर बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन ने 10वीं क्लास के रिजल्ट की घोषणा कर दिया है। इसी के साथ स्टूडेंट्स का इंतजार अब खत्म हो गया है। बता दें कि जम्मू संभाग में 70 फीसदी छात्र- छात्राएं उत्तीर्ण हुए हैं।

भारत द्वारा सीमा पर चल रहे सुरक्षा बांध का काम लगातार जारी है जिसकों बाधित करने के लिए पाकिस्तान लगातार गोलाबारी कर रहा है। बीएसएफ की 19 बटालियन के जवानों ने भी पाकिस्तानी सेना की इस नापाक हरकत का करारा जवाब दिया।

जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों की मुस्तैदी से एक बड़े आतंकी हमले को टाल दिया गया। आतंकियों ने पुलवाला इलाके में एक सेंट्रो कार में 40 किलो आईईडी छिपा रखी थी। जिसे सुरक्षाबल के जवानों ने समय रहते खोज निकाला और विस्फोटक सामग्री को एक सुरक्षित स्थान पर ले जाकर निष्क्रिय कर दिया।

आज की बड़ी खबर जम्मू कश्मीर से आ रही है। यहां सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। सुरक्षा बल के जवानों ने पुलवामा जिले में समय रहते आईईडी को ट्रैक कर उसे डिफ्यूज कर दिया। इसे एक गाड़ी के अंदर छिपाकर प्लांट किया गया था।