Jio platforms

TPG ने 4,546.80 करोड़ और एल केटरटन ने 1,894.50 करोड़ के निवेश की घोषणा,  कुल 1,04,326.95 करोड़ रु का इंवेस्टमेंट हुआ, एक दिन दो निवेशको ने किया में 6,441.3 करोड़ का निवेश, 8 हफ्तों में मिला दसवां इंवेस्टमेंट

कंपनी ने अपने बयान में कहा, “रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की फुली ओन्ड सब्सिडियरी जियो प्लेटफॉर्म्स एक नेक्स्ट जनरेशन टेक्नॉलोजी कंपनी है, जो भारत को एक डिजिटल सोसायटी बनाने के काम में मदद कर रही है।”

जियो में लगातार बड़ी कंपनियां निवेश कर रही हैं। आबू धाबी की इस कंपनी का जियो में निवेश जियो प्लेटफॉर्म्स में पिछले छह हफ्तों में छठां बड़ा विदेशी निवेश है।

जियो ने एक नई डिजिटल दुनिया बनाई है जिसमें नेटवर्क, डिवाइसेस, एप्लिकेशंस, कॉन्टेंट, सर्विस एक्स्पीरियेंसेज़ सब शामिल हैं – और ये डिजिटल वर्ल्ड, भारत के ग्राहकों को उपलब्ध है – वो भी किफ़ायती दामों पर।

रिलायंस के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा कि में जनरल अटलांटिक का स्वागत करता हूं। मैं इसे कई दशकों से जानता हूं। जनरल अटलांटिक ने भारत के लिए एक डिजिटल सोसाइटी के अपने दृष्टिकोण को साझा किया और 1.3 अरब भारतीयों के जीवन को समृद्ध बनाने में डिजिटलीकरण की परिवर्तनकारी शक्ति में विश्वास किया।