kanhaiya kumar

दिल्ली सरकार ने राजद्रोह के एक मामले में दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के आरोप में पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार और दो अन्य लोगों पर मुकदमा चलाने के लिए दिल्ली पुलिस को मंजूरी दे दी।

JNU छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और CPI नेता कन्हैया कुमार अपने बयानों की वजह से चर्चा में बने रहते हैं। वो हर समय कोई न कोई बयान की वजह से सुर्खियों में आ जाते हैं।

नई दिल्ली: जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के खिलाफ राजद्रोह से जुड़े मामले में सुप्रीम कोर्ट से दिल्ली सरकार को बड़ी राहत मिली है। इस मामले में दिल्‍ली सरकार की ओर से अभी तक मुकदमा चलाने को मंजूरी नहीं मिली है। इसको लेकर वकील अमित साहनी ने याचिका दाखिल कर इस मामले …

राजनीतिक रणनीतिकार से जेडीयू के जरिए अपना सियासी सफर शुरू करने वाले प्रशांत किशोर अब नीतीश कुमार से अलग हो चुके हैं, लेकिन बिहार की सियासत में अब वह नए...

जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर एक बार फिर से हमला किया गया है। यह हमला बिहार के जमुई में हुआ है, जहां उनके काफिले पर आक्रोशित लोगों ने अंडा और मोबिल फेंक दिया।

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी(जेएनयू) छात्र संघ के पूर्व नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर बुधवार को पथराव हुआ है। बिहार के सुपौल में काफिले पर हुए पथराव में कन्हैया कुमार घायल हो गए है।

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई के नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर असामाजिक तत्वों ने पथराव किया है। मिली जानकारी के मुताबिक, सारण जिले में कोपा के पास हुए पथराव के बाद कन्हैया कुमार के काफिले को रोक दिया गया है।

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई के नेता कन्हैया कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपील करते हुए नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और एनपीआर (NPR) के विरोध में चल रहे प्रदर्शन के समर्थन में उतरने को कहा है।

देश में इस वक़्त सबसे बड़ा बवाल CAA और NRC को लेकर चल रहा है। इसके विरोध में बहुत से बड़े लोगों का नाम आया है। इसी में शामिल जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार का भी नाम आया था।