karnatka

मौसम की निजी एजेंसी स्काईमेट ने बताया है कि पूर्वी भारत के राज्यों में कई जगहों पर मौसम में उथल-पुथल की उम्मीद है। पूर्वानुमान यह  है कि ओडिशा, झारखंड में अधिकांश जगहों पर बारिश होगी, क्योंकि यहां चक्रवाती हवाओं का अक्षेत्र सक्रिय है।

आईएमए के संस्थापक और पोंजी घोटाले के सरगना मंसूर खान के घर से एसआईटी ने 303 किलो नकली सोने के बिस्किट बरामद किए हैं। मंसूर खान पर 30 हजार लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी करने का आरोप है।

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि विश्वास मत के लिए वह आधी रात तक भी इंतजार करने को तैयार हैं।

कर्नाटक मामले पर बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा है कि स्पीकर को खुली छूट है कि वह नियमों के हिसाब से फैसला करें। फिर चाहे वो इस्तीफे पर हो या फिर अयोग्यता पर हो।

कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस की गठबंधन सरकार गंभीर संकट मंडरा रहा है। प्रदेश के 11 कांग्रेस-जेडीएस विधायकों ने कर्नाटक विधानसभा से इस्तीफा दे दिया है। यह सभी विधायक विधानसभा स्पीकर को इस्तीफा देने के लिए गए थे, लेकिन अध्यक्ष के न मिलने पर उनके सचिव को ही अपना इस्तीफा सौंप दिया।

कर्नाटक के कांग्रेस विधायक रोशन बेग के खिलाफ पार्टी ने बड़ी कार्रवाई की है। कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस समिति ने रोशन बेग के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी, जिसे कांग्रेस पार्टी ने स्वीकार कर विधायक रोशन बेग को पार्टी से निलंबित कर दिया है।

राष्ट्रीय शिक्षा नीति में प्रस्तावित तीन भाषा फॉर्म्युले को लेकर दक्षिण भारत में बवाल मच गया है। इसे लेकर राजनीतिक पार्टियों कर रही हैं। डीएमके ने जहां इस मसौदे का कड़ा विरोध किया है, वहीं तमिलनाडु सरकार ने मामले को शांत करने का प्रयास करते हुए कहा कि वह दो भाषा फॉर्म्युले को जारी रखेगी।

एक 6 साल के मासूम की तस्वीर सामने आई हैं जो हम भी को अंदर से हिलाकर रख देगी। यह तस्वीर कर्नाटक के कोप्पल की है जहां अस्पताल में भर्ती मां के इलाज के लिए 6 साल की मासूम भीख मांगती नजर आ रही है।

कर्नाटक में सत्तारूढ़ कांग्रेस और जनता दल-सेक्युलर (जद (एस)) के बीच मतभेद गहरा गए हैं। जद (एस) के प्रदेश अध्यक्ष ए एच विश्वनाथ और कांग्रेस नेता एवं कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने एक-दूसरे पर ‘‘गठबंधन धर्म’’ का पालन नहीं करने के आरोप लगाए हैं।

मंड्या को ‘‘सक्कारे नाडू’’ (गन्ने की भूमि) के तौर पर जाना जाता है और कावेरी की राजनीति का यह गढ़ है और वर्तमान चुनाव ने इसे सनसनीखेज नाटक से कम नहीं बना रखा है।