kundali

ज्योतिष शास्त्र में ग्रहों का महत्व बहुत अधिक है। इनका जीवन पर अच्छा व बुरा दोनों प्रभाव पड़ता है। चाहे सौर मंडल का कोई भी भी ग्रह हो अगर जातक की कुडंली में सही जगह पर नहीं है तो ऐसे जातक को परेशानियों का सामना करना पड़ता है। 

मनुष्य का व्यवहार समय समय पर बदलता रहता है। कई बार खुद के व्यवहार पर आश्चर्य भी होता है आप किसी के साथ तो बहुत विनम्र तो किसी के साथ न चाहते हुए भी कठोर हो जाते हैं। दरअसल हम अपने आस-पास के लोगों के साथ किस तरह का व्यवहार करते हैं।

चन्द्रमा मन का कारक है। धर्म में 'चंद्रमा मनसो जात:'। इसकी राशि कर्क है। कुंडली में चंद्र अशुभ होने पर मां को किसी भी प्रकार का कष्ट या सेहत का खतरा होता है, दूध देने वाले पशु की मृत्यु हो जाती है। स्मरण शक्ति कमजोर हो जाती है। घर में पानी की कमी आ जाती है या नलकूप, कुएं आदि सूख जाते हैं।

आज के समय में लोगों का रिलेशनशिप पर ज्यादा विश्वास नहीं रहा है, लेकिन ये आज की ही सिर्फ बात नहीं है, जब से सभ्यता पनपी है लोगों के अवैध संबंध भी बने है । ये अलग बात है कि आज आसानी से किसी के अवैध रिलेशनशिप की जानकारी हो जाती है।  यदि शुक्र मेष,सिंह, धनु, वृश्चिक में हो या नीच का हो

कहते हैं हम इस जन्म में जो करते हैं वो पिछले जन्म का निर्धारित होता है। धर्मशास्त्रों में कहा गया है कि इस जन्म का अच्छा या पुरा प्रभाव पिछले जन्म का कर्म होता है।

जयपुर:ऐसे कितने माता-पिता हैं जो अपने बच्चों के विवाह के लेकर बहुत परेशान हैं। जब भी उनमें से किसी के विवाह की बात चलती है, तो कोई न कोई बाधा उपस्थित हो जाती है। इसके चलते उनका विवाह नहीं हो पाता। बहुत से युवा इस बात से बहुत अधिक निराश हो जाते हैं, उनके चेहरों …

जयपुर: कुंडली जन्म के समय बनाई जाती है जो पूरी जिंदगी चलती है।जीवन उसी कुंडली के अनुसार ही चलता है।इस जन्म में आपके हाथ में अब कुछ नहीं है।  कुछ नहीं कर सकते हैं। लेकिन अगर कुंडली में ही भविष्य निर्धारित है तो आपको इस जन्म में कुछ करने की आवश्यकता भी नहीं है, क्योंकि …

रामकृष्ण वाजपेयी अयोध्या में रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण का मुद्दा एक बार फिर मीडिया में सुर्खियां बटोर रहा है। चाहे वह शिवसेना का के उद्धव ठाकरे का शो रहा हो या राष्टï्रीय स्वयं सेवक संघ के आनुषांगिक संगठनों के सहयोग से होने वाली धर्म सभा के जरिये विराट हिन्दू शक्ति प्रदर्शन दोनो के ही जरिये …

जयपुर: पारिवारिक क्लेश या परेशानियों से कई बार दिमाग बेहद तनाव में रहता है। परिवार की समस्या हो या फिर लेन देन से की या किसी से मनमुटाव दिमाग परेशान होने लगता है। लेकिन कुछ उपाय ऐसे हैं जो इन परेशानियों से मुक्ति दिलाते हैं। दमा या सांस की बीमारी हो जाए। त्वचा संबंधी रोग …

सहारनपुर: राहू और केतु का नाम तो आपने सुना ही होगा। नवग्रह में राहू को क्रूर ग्रह कहा जाता है। शनि की तरह ही राहू भी बेहद परेशान करता है। यदि राहू के उपाय किए जाए तो यह शांति भी प्रदान करता है। लेकिन आज हम आपको राहू के उन रूपों के बारे में जानकारी …