lata mangeshkar

लता मंगेशकर के फैंस के लिए बड़ी खुशखबरी है। 28 दिन तक अस्पताल में चले इलाज के बाद अब लता मंगेशकर घर लौट आई हैं। वो पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

लता मंगेशकर को आईसीयू से भी छुट्टी मिल चुकी है, अब उन्हें सामान्य वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है। अस्पताल से संबंधी सूत्र ने ये जानकारी दी है।

लता मंगेशकर अभी पूरी तरह ठीक नहीं है। डॉक्टर्स ने बताया है कि लताजी कि तबीयत में सुधार हो रहा है लेकिन रिकवरी में समय लगेगा। वो जल्द ही ठीक हो जाएंगी।  खबरों के अनुसार, लता मंगेशकर की तबीयत में सुधार हो रहा है, लेकिन पूरी तरह ठीक होने में समय लगेगा।

स्वर कोकिला लता मंगेशकर के अभी भी अस्पताल में भर्ती है, बताया जा रहा है कि उनकी हालत स्थिर बनी हुई है। देश-विदेश में उनके तमाम प्रशंसकों के साथ बॉलीवुड सितारों ने उनके जल्दी ठीक होने के लिए दुआयें मांग रहे हैं।

लता मंगेशकर की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। उन्हें ICU में वेंटिलेटर पर रखा गया है। सोमवार को उनकी तबियत खराब होने के बाद मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। 90 साल की लताजी की हालत अब भी नाजुक है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी।

स्वर कोकिला लता मंगेशकर को तबियत खराब होने के बाद सोमवार को मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। 90 साल की लता की हालत अब भी नाजुक है और उन्‍हें वेंटिलेटर पर रखा गया है। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हो रही थी जिसके बाद नजदीकी हॉस्पिटल ब्रीच कैंडी में भर्ती कराया गया।

लता मंगेशकर का जन्म 28 सितंबर 1929 को इंदौर में हुआ था। उनके पंडित दीनानाथ मंगेशकर एक क्लासिकल सिंगर और थिएटर आर्टिस्ट थे। लता अपनी तीन बहनों मीना, आशा, उषा और भाई हृदयनाथ में सबसे बड़ी हैं।

स्वर कोकिला लता मंगेशकर को तबियत खराब होने के बाद मुंबई के ब्रीच कैंडी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, हालांकि ताजा जानकारी के मुताबिक उनकी हालत पहले से बेहतर है। वह अब वापस घर आ गई हैं और बहुत तेजी से रिकवर कर रही हैं।

IIT Madras के इस खास कार्यक्रम के लिए विशेष अतिथि भी हैं। कार्यक्रम में विशेष अतिथि के रूप में आई प्रसिद्ध गायिका लता मंगेशकर ने कहा कि आपके (मोदी) आने के बाद देश की छवि बदली है और इससे मुझे काफी खुशी मिली है।

उन्होंने ट्वीट के माध्यम से कहा कि कल मैं आईआईटी मद्रास के दीक्षांत समारोह में भाग लेने के लिए चेन्नई में रहूंगा। मैं वहां भारत के कुछ तेज-तर्रार दिमागों के साथ होने की आशा करता हूं। मैं आप सभी को खासकर के आईआईटियनों और आईआईटी के पूर्व छात्रों से मेरे भाषण के लिए आपके विचार