latest breaking news rio olympics

भारतीय पहलवान हरदीप सिंह रियो ओलंपिक के 11वें दिन (मंगलवार) 98 किलोग्राम भारवर्ग के प्री क्वार्टरफाइनल में भारत के हरदीप सिंह को तुर्की के पहलवान सेंक इल्डेम ने हरा दिया। पहले राउंड में हरदीप सिंह पर सेंक इल्डेम भारी पड़े। उन्होंने हरदीप के 0 के मुकाबले 2 अंक जुटाकर बढ़त हासिल की। दूसरे राउंड में हरदीप ने एक अंक जुटाया लेकिन हरदीप यह मुकाबला 2-1 से गंवा बैठे।

भारत की तरफ से महिला डिस्‍कस थ्रो स्पर्धा में सीमा पुनिया रियो ओलिंपिक से बाहर हो गईं हैं। ग्रुप बी में क्वालीफाइंग राउंड में सीमा 20वें स्थान पर रहीं सीमा ने कठिन परिस्थितियों में 57.58 मीटर का थ्रो फेंका। गौरतलब है कि सीमा पुनिया ने इंचियोन एशियाई खेलों में 62.62 मीटर डिस्कस थ्रो फेंककर गोल्ड मेडल हासिल किया था।

36 सालों के बाद रविवार को ओलंपिक के क्वार्टर फाइनल मैच में खेल रही भारतीय पुरुष हॉकी टीम की उम्मीदें टूट गईं। भारतीय टीम को बेल्जियम ने 3-1 से करारी शिकस्त दी। इस रोमांचक मुकाबले में भारत की शुरुआत धमाकेदार रही। मैच के 15वें मिनट में ही भारत की तरफ से आकाशदीप ने एक गोल कर बेल्जियम पर 1-0 से बढ़त बना ली। जैसे-जैसे मैच बढ़ता गया बेल्जियम की टीम भारत के खिलाफ आक्रामक हो गई है। बेल्जियम की तरफ से सेबेस्टीन डॉकियर ने मैच के दूसरे और तीसरे क्वार्टर में एक-एक गोल कर भारत पर 2-1 से बढ़त बना ली। भारतीय टीम दबाव में आ गई और मैच के चौथे क्वार्टर में बेल्जियम की तरफ से टॉम बून ने टीम के लिए तीसरा गोल कर मैच अपने नाम कर लिया। इस तरह ओलंपिक में भारत की सेमीफाइनल में खेलने की सारी उम्मीदें टूट गई और बेल्जियम ने सेमीफाइनल में धमाकेदार एंट्री मारी।

रियो ओलंपिक में मंगलवार को भारतीय पुरुष हॉकी टीम का मुकाबला अर्जेंटीना से हुआ। भारतीय टीम ने मैच के हाफ टाइम तक अर्जेंटीना पर 1-0 से बढ़त बना ली थी। मैच के तीसरे क्वार्टर में भारतीय टीम ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते अर्जेंटीना पर दूसरा गोल भी दाग दिया, लेकिन मैच के आखिरी क्वार्टर में अर्जेंटीना ने एक गोल कर मैच का स्कोर 2-1 कर दिया। हालांकि इसके बाद भारतीय टीम ने एक भी गोल नहीं होने दिया और इस तरह 2-1 से मैच जीतकर अपने किया। इस जीत के साथ भारत ने क्वार्टर फाइनल में भी अपनी जगह पक्की कर ली है।

खेलों के महाकुंभ का आगाज ब्राजील के रियो शहर में हो चुका है। रियो ओलंपिक में भारत समेत कई देशों के खिलाड़ी मैडल जीतने के लिए कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं जीतने के लिए सभी अपनी क्षमता का पूरा इस्तेमाल कर रहे हैं। इस बीच, रियो ओलंपिक में पार्टिसिपेट करने वाले कई दिग्गज प्लेयर्स की बॉडी पर जलने के लाल (रेड) कलर के निशाना दिखाई दे रहे हैं। बता दें, कि रियो ओलंपिक में रविवार को अब तक कुल 19 गोल्ड मेडल जीतने वाले स्विमर (तैराक) माइकल फलेप्स की बॉडी पर भी ये निशान देखे गए। माइकल फेलेप्स ही नहीं अमेरिकन एक्ट्रेस जेनिफर एनिस्टन और लीना डनहम के पीठ और कंधों पर भी अक्सर इस तरह के निशान देखे गए हैं।

ओलंपिक में 8 बार चैंपियन रही भारतीय पुरुष हॉकी टीम का ग्रुप B में दूसरा मुकाबला सोमवार को जर्मनी से हुआ। जिसमें भारत पर जर्मनी 2-1 से जीत दर्ज की। चौथे और अंतिम क्वार्टर में आखिरी दो मिनट तक दोनों टीमें बराबरी पर थीं। इससे पहले शनिवार को भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने शुरुआती मैच में आयरलैंड के खिलाफ 3-2 से जीत दर्ज की थी। रियो के शुरूआती मैच में ही भारतीय हॉकी टीम की इस जीत के साथ ही इंडियंस की आस भी भर्ती हॉकी टीम से बढ़ गई थी लेकिन यह करिश्मा भारतीय टीम दोबारा नहीं दोहरा सकी। गौरतलब है कि जर्मनी की टीम 2008 बीजिंग और 2012 लंदन ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीत चुकी है।

जमैका के फर्राटा किंग उसैन बोल्ट की रफ़्तार का लोहा पूरी दुनिया मानती है। उसैन बोल्ट ने अपने फैंस को स्टेडियम में आकर ओलंपिक में लास्ट बार उनको इतिहास बनाते हुए देखने का आग्रह किया है। बता दें, उसैन बोल्ट के ट्विटर अकाउंट में उनके 40 लाख फॉलोअर्स हैं। बोल्ट ने अपने फैंस को ट्विटर पर यह मैसेज दिया। बीजिंग और लंदन ओलंपिक के बाद बोल्ट एक बार फिर गोल्ड मैडल की हैट्रिक हासिल करने की कोशिश में लगे हैं। उनकी निगाहें 200 मीटर वर्ग में नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने पर टिकी हैं। बोल्ट ने अपने फैंस से कहा कि उनकी स्पर्धा में पांच दिन का समय बचा हुआ है और लोगों से रियो ओलंपिक का टिकट खरीदने का आह्वान किया।

रियो ओलंपिक में सानिया मिर्जा और प्रार्थना थोम्बारे की जोड़ी को भी पहले ही दौर में चीनी जोड़ी शुहाई च्यांग और शुहाई पेंग के हाथों हार का सामना करना पड़ा।

रियो ओलंपिक के पहले ही दिन टेबल टेनिस और लॉन टेनिस में भारत की निराशाजनक शुरुआत रहीं। पुरुष डबल्स के पहले ही मुकाबले में भारत के लिएंडर पेस और रोहन बोपन्ना की जोड़ी पोलैंड के कुबोत लुकाज और मातकोव्सकी मार्किन से सीधे सेटों में 4-6, 6-7 से हार गई। पहला सेट 32 मिनट चला और दूसरा सेट 52 मिनट तक चला। इस हार के साथ भारत को एटलांटा ओलंपिक्स में ब्रोंज मैडल जीतने वाले लिएंडर पेस की चुनौती समाप्त हो गई। टेनिस में भारत की अगली चुनौती अब महिला डबल्स और मिक्सड डबल्स में है।

रियो डी जेनेरियो : खेलों के सबसे बड़े महाकुंभ यानी ओलंपिक का इंतजार अब खत्म हुआ। तीन महीनों तक ब्राज़ील के शहरों से होते हुए ओलंपिक मशाल रियो डी जेनेरियो शहर पहुंच गई है। ब्राजील का रियो शहर ओलंपिक खेलों की मेजबानी के लिए तैयार है। दुनिया के कई प्लेयर्स जीत के लिए आपस में …