latest news

हमारी जैसी सोच रहती है। उसी के अनुरूप हाथों की रेखाओं बदलाव होते रहते हैं। सामान्यत: हमारे हाथों की कई छोटी-छोटी रेखाएं बदलती रहती हैं, परंतु कुछ खास रेखाओं में बड़े परिवर्तन नहीं होते हैं। इन महत्वपूर्ण रेखाओं में जीवन रेखा, भाग्य रेखा, हृदय रेखा, मणिबंध, सूर्य रेखा और विवाह रेखा शामिल है।

कहा जाता है कि रक्तदान महादान होता है। दुनिया में करोड़ों लोग रक्तदान कर लोगों की जिंदगी बचाते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि व्यक्ति का ब्लड ग्रुप भी उसके स्वभाव के बारे में बताता है।  ज्योतिष के अनुसार ब्लड ग्रुप व्यक्ति के स्वभाव के बारे में बताता है।

हमारे कई प्रांत और कई पंरपराएं है और यहां की होने वाली शादियों की बात भी अद्भुत होती है। अगर पूरे देश की बात करें तो शादियों का रिवाज बिल्कुल अलग है। कहीं कुछ रिवाज है तो कहीं कुछ।

चीन में अब तक कोरोना वायरस के 600 मामले सामने आ चुके हैं। 17 लोगों की मौत हो गई है। गुरुवार सुबह वुहान से बाहर जाने वाली सभी उड़ानों और ट्रेनों को बंद कर दिया गया था।

माह –माघ,  तिथि – द्वादशी ,पक्ष –कृष्ण,वार – मंगलवार,नक्षत्र – ज्येष्ठा, सूर्योदय –07.22,सूर्यास्त – 17:39। आज का शुभ मुहूर्त 12.11-12.53। आज मगंलवार बजरंगबली का दिन है। अगर जातक आज सुंदरकांड करेंगे तो लाभ होगा।जानते हैं 12 राशियों के लिए दिन कैसा रहेगा।

माह- माघ, पक्ष-कृष्ण, तिथि- दशमी, दिन-रविवार, नक्षत्र-विशाखा , सूर्योदय- 07.21, सूर्यास्त-17.38। आज रविवार के दिन सूर्य की उपासना करें सूर्य के तिल के साथ जल चढ़ाएं। जो भी रोग है वो क्षण भर में दूर हो जाएंगे। जानते हैं 12 राशियों का हाल...

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान के सुप्रीम लीडर अयातुल्ला खामनेई को जुबान संभाल कर बोलने की चेतावनी दी है। ट्रम्प ने कहा कि ईरान के सुप्रीम लीडर कहे जाने वाले ज्यादा सुप्रीम (सर्वोच्च) नहीं रह गए हैं।

सैय्यद अख्तर हुसैन रिजवी उर्फ़ कैफ़ी आजमी एक उर्दू-हिंदी शायर और लाखों दिलों की धड़कन है। उनके शब्द आज भी लोगों के दिलोंदिमाग में गूंजते हैं। उन्होंने हिन्दी फिल्मों के लिए भी कई प्रसिद्ध गीत व ग़ज़लें भी लिखीं, जिनमें देशभक्ति का अमर गीत -"कर चले हम फिदा, जान-ओ-तन साथियों" भी शामिल है।

दिन-मंगलवार ,तिथि- चतुर्थी और पंचमी, पक्ष-कृष्ण, माह-माघ, नक्षत्र-मघा, अभिजित काल-12.14- 12.58। राहुकाल-03.19 -4.40 तक। सूर्योदय-07.20 , सूर्यास्त-17.37। आज मगंलवार है बजरंगबली का दिन। आज दोपहर 2.49 मिनट के बाद पंचमी तिथि लगेगी। और सूर्य मकर राशि में जाएगा तो मकर संक्राति का स्नान आज नहीं कल 15 जनवरी को होगा।

लोहड़ी को दुल्ला भट्टी की एक कहानी से भी जोड़ा जाता हैं। लोहड़ी के सभी गानों को दुल्ला भट्टी से ही जोड़ा जाता है। यह भी कह सकते हैं कि लोहड़ी के गानों का केंद्र बिंदु दुल्ला भट्टी को ही बनाया जाता हैं ऐसा क्यों है। दुल्ला भट्ठी कौन था।